रोहतक, जेएनएन। कभी सरकार में हाथ होने तो कभी बड़ी नेता से जान पहचान होने की बात कही सरकारी नौकरी लगवाने के मामले लगातार सामने आ रहे हैं। ताजा मामला रोहतक का है। जहां सरकारी ठेके दिलाने और दो भाइयों की पुलिस में नौकरी लगवाने के नाम पर दिल्ली की महिला ने अपने परिजनों के साथ मिलकर डेयरी मुहल्ले के एक परिवार से करीब 20 लाख रुपये ठग लिए। आरोपित खुद को भाजपा के एक वरिष्ठ नेता की भतीजी बताती है। रुपये वापस मांगने पर जान से मारने की धमकी दी जा रही है।

डेयरी मुहल्ले की रहने वाली नीतू पत्नी सचिन ने बताया कि वर्ष 2017 में उसकी मुलाकात दिल्ली की रहने वाली एक महिला से हुई। जिसने खुद को भाजपा के एक वरिष्ठ नेता की भतीजी बताया। आरोपितों ने वरिष्ठ नेता के साथ अपने परिवार के फोटो भी दिखाएं। झांसा दिया कि वह सरकारी नौकरी और सरकारी ठेके दिला सकते हैं। आरोपित महिला और उसके परिजनों ने कहा कि वह हरियाणा के सभी कार्यालयों में आग बुझाने वाले सिलेंडर लगवाने का ठेका दिलवा देंगे। इसके लिए ढाई लाख रुपये उन्होंने ले लिए। कुछ दिन बाद आरोपितों ने कहा कि हरियाणा में सरकारी नौकरी की पोस्ट निकली है।

वह उसमें किसी को भी लगवा सकते हैं। पीडि़ता ने अपने एक देवर को पुलिस में सब इंस्पेक्टर और दूसरे को सिपाही की नौकरी पर लगवाने के लिए कहा। इसके लिए 23 लाख रुपये की मांग की। इसी तरह पीडि़त परिवार से करीब 20 लाख रुपये ठग लिए, लेकिन ना ठेके मिले और ना ही किसी की नौकरी लगी। रुपये वापस मांगने पर आरोपित जान से मारने की धमकी देते हैं। पीडि़ता का आरोप है कि आरोपितों ने कई अन्य लोगों को इसी तरह शिकार बनाया है। इस मामले की पुलिस में कई बार शिकायत कर चुकी, लेकिन आरोपितों से सांठगांठ के कारण पुलिस कोई कार्रवाई नहीं करती। पीडि़त परिवार ने अब गृह मंत्री अनिल विज को शिकायत भेजी है।

Posted By: Manoj Kumar

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस