हिसार, [चेतन सिंह]। Bollywood star सलमान खान को जान से मारने की धमकी देने वाला गैंगस्टर लॉरेंस बिश्नोई के फेसबुक पर एक या दो नहीं पूरे 188 अकाउंट हैं। ये अकाउंअ लॉरेंस बिश्नोई के विभिन्न कॉलेज व विश्वविद्यालय में पढ़ने वाले गुर्गो की तरफ से बनाए गए है। यदि फेसबुक अकाउंट पर देखें तो उत्‍तर प्रदेश, जोधपुर, बीकानेर, पंजाब, फाजिल्का, अबाेहर, सियालकोट, बठिंडा सहित देश के कई अन्य शहरों के पते से आइडी बनाई गई है।

पंजाब, हरियाणा और राजस्थान की यूनिवर्सिटी व कॉलेज के विद्यार्थी इन अकाउंट से जुटे हुए

ज्यादातर आईडी पर हथियारों के साथ गुर्गों ने अपनी फोटो डाली है। इतना ही नहीं इन अकांउट पर लॉरेंस को हीरो की तरह पेश किया जाता है। ताकि युवा ज्यादा से ज्यादा लॉरेंस बिश्नोई और उसके गैंग की तरफ आकर्षित हो। यूनिवर्सिटी व कॉलेज के स्टुडेंट ही इनका साफ्ट टारगेट होते हैं और जुर्म की दुनिया में कदम रख देते हैं।

हाल ही में राजस्थान पुलिस ने हिसार के उकलाना के राजेंद्र उर्फ जोकर को हथियारों के जखीरे के साथ पकड़ा था। राजेंद्र का कनेक्शन लॉरेंस बिश्नोई गैंग के साथ जुड़ा हुआ है। राजेंद्र को जोधपुर जेल में बंद शुभम ने हथियारों की डिलीवरी के लिए चुना था। शुभम भी उकलाना का रहने वाला है और हत्या के मामले में जोधपुर जेल में बंद है। शुभम ने भी स्कूल टाइम में जुर्म की दुनिया में कदम रखा और लॉरेंस बिश्नोई के गैंग में शामिल हो गया।

हिसार के जाट कॉलेज से जुड़े हैं तार

लॉरेंस बिश्नोई के तार जाट कॉलेज से भी जुड़े रहे हैं। जाट कॉलेज के अंदर व बाहर पिछले कुछ वर्षो में स्टूडेंट ऑर्गेनाइजेशन ऑफ पंजाब यूनिवर्सिटी यानि सोपू नाम के संगठन के पोस्टर लगाए गए थे। इन पोस्टरों में लिखा होता था 'स्पोर्टेड बाय लॉरेंस बिश्नोई ग्रुप'। इससे साफ है कि लॉरेंस बिश्नोई के गुर्गों का कॉलेजाें में प्रभाव रहा है। इसके साथ ही पोस्टरों पर लिखा जाता था सलाम शहीदा नूं। वहीं एक अन्य पोस्टर भी लगाया गया था, जिसमें कई करीब 50 विद्यार्थियों ने अपनी तस्वीरें पोस्टर में लगाई थी।

इस तरह के पोस्टर लगा कर कॉलेज में अपनी पैठ बनाने व विपक्षी पक्ष पर दबाव बनाने का काम लॉरेंस ग्रुप से जुड़े विद्यार्थी करते थे। गौरतलब है कि भिवानी में करीब डेढ़ वर्ष पहले इसी लॉरेंस ग्रुप से जुड़े इसी तरह के पोस्टर लगाने पर वहां डीएसपी ने कई विद्यार्थियों पर दहशत फैलाने का मामला दर्ज करवाया था। जिसके बाद कई विद्यार्थियों ने कॉलेजों से उन पोस्टरों को हटा दिया था।

------

पूरे शहर में लगे थे पोस्टर

पूरे शहर के कॉलेजो, गुरु जंभेश्वर विश्वविद्यालय के अंदर व बाहर, बस स्टैंड, रेड स्क्वेयर मार्केट सहित कोचिंग सेंटर्स के बाहर ऐसे पोस्टर लगे पाए गए थे, जिनपर लॉरेंस बिश्नोई का नाम होता था।

------

छात्र संघ चुनाव में रहता है हस्तक्षेप

छात्र संघ चुनाव में भी लॉरेंस बिश्नाेई ग्रुप के सदस्यों का हस्तक्षेप रहता है। जाट कॉलेज में लगे पंजाब यूनिवर्सिटी के छात्र संघ के पोस्टर लगाने का क्या मकसद था और यहां से कितने लोग लॉरेंस गैंग से जुड़े है। इन सबके बारे में पुलिस जानकारी जुटा जा रही है।

-----

'' फेसबुक पेज बनाने वालों पर भी हमारी नजर है। इसमें आइटी एक्ट के तरह कार्रवाई की जा सकती है। हम पूरे मामले को देख रहे हैं कि इसे कैसे रोका जा सकता है।

                                                                                                         - गंगाराम पूनिया, एसपी, हिसार।

यह‍ भी पढ़ें: पंजाब में जहरीली देसी शराब पीने से 13 और की मौत, तीन दिन में 62 लोगों की जान गई


यह‍ भी पढ़ें: Unlock 3.0: पंजाब में 5 अगस्त से खुलेंगे जिम व योग सेंटर, होटल-रेस्टोरेंट रात 10 बजे तक Open

यह‍ भी पढ़ें: Exclusive Interview: जस्टिस लिब्राहन बोले- मुझे पहले दिन से पता था अयोध्या में बनकर रहेगा

 

पंजाब की ताजा खबरें पढ़ने के लिए यहां क्लिक करें


हरियाणा की ताजा खबरें पढ़ने के लिए यहां क्लिक करें

Posted By: Sunil Kumar Jha

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस