संवाद सहयोगी, सिवानीमंडी : लॉकडाउन के चलते फंसे 150 श्रमिकों का इंतजार खत्म हो गया। रविवार को इनकी स्वास्थ्य जांच करवाने के बाद पांच विशेष बसों से उनको उतर प्रदेश के लिए रवाना कर दिया। एसडीएम जगदीश चन्द्र ने बताया कि सिवानी उपमंडल में उतर प्रदेश जाने वाले जितने मजदूरों ने ऑन लाइन अपने घर जाने के लिए पंजीकरण करवाया हुआ था। पंजीकरण करवाने वाले सभी प्रवासी मजदूरों को फोन करके इसकी जानकारी दी गई और उनको राजकीय वरिष्ठ माध्यमिक विद्यालय के प्रांगण में बुलाकर स्वास्थ्य विभाग की टीम द्वारा स्वास्थ्य जांच करने के बाद रोडवेज की बसों से उतर प्रदेश के लिए रवाना किया गया। एसडीएम ने बताया कि इन मजदूरों को भेजने में बीडीपीओ विनीत कुमार, नायब तहसीलदार कृष्ण कुमार व नगर पालिका सचिव प्रशान्त पारासर की जिम्मेदारी लगाई गई थी। उन्होंने बताया कि सुबह 6 बजे से लेकर करीब एक बजे तक चली सारी कार्रवाई में इन अधिकारियों ने अहम भूमिका निभाई। रविवार को 150 मजदूरों को रोडवेज बसों से एक-एक सरकारी कर्मचारी को साथ भेजकर रवाना किया गया। उन्होंने बताया कि इस दौरान जनता की रसोई में काम करने वाले सभी समाजसेवी लोगों ने मजदूरों को जलपान के अलावा भोजन करवाने व रास्ते के लिए भी भोजन की व्यवस्था की। इस मौके पर पालिका प्रधान सुरेश खटक, सचिव प्रशान्त पारासर, नायब तहसीलदार कृष्ण कुमार, डा. रिशाल सिंह, पार्षद रमेश पोपली, अशोक सोनी, भादरमल, उमेद सिंह मतानी, आजाद सिंह, रघुबीर सिंह, कृष्ण मिरानिया फार्मासिस्ट मौजूद थे।

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस