जागरण संवाददाता, नया गुरुग्राम: अंतरराष्ट्रीय योगा दिवस (21 जून) के उपलक्ष्य में केंद्र सरकार के आयुष मंत्रालय के साथ मिलकर द आर्ट ऑफ लि¨वग संस्था विभिन्न शहरों में योग महोत्सव का आयोजन कर रही है। इसी कड़ी में साइबर सिटी के सेक्टर-29 स्थित केओडी (¨कगडम ऑफ ड्रीम्स) में द आर्ट ऑफ लि¨वग संस्था की गुरुग्राम शाखा द्वारा आयोजित चार दिवसीय योग महोत्सव का रविवार को समापन हो गया।

प्रतिदिन सुबह साढ़े पांच बजे से साढ़े सात बजे तक चलने वाले योग शिविर में शहरवासियों ने अंतरराष्ट्रीय योग गुरु गौरव वर्मा के दिशा-निर्देश में योग किया। आखिरी दिन लोगों को योग का महत्व समझाते हुए उन्होंने कहा कि तनावमुक्त और स्वस्थ जीवन के लिए योग व ध्यान का अभ्यास अवश्य करना चाहिए। आजकल तनाव और मानसिक रोगों से ग्रसित लोगों की संख्या बढ़ती जा रही है, ऐसे शिविर का उद्देश्य लोगों को शारीरिक स्वास्थ्य के साथ मानसिक स्वास्थ्य को बरकरार रखने के गुर भी सिखाना है।

आयोजन को लेकर आर्ट ऑफ लि¨वग संस्था के सदस्य गोपाल कृष्ण भटनागर ने कहा कि आम तौर पर लोगों को यह भ्रम रहता है कि योग का अभ्यास कठिन है, लेकिन योग महोत्सव में ऐसे योगासन, प्राणायाम और ध्यान का क्रम कराया गया, जो सभी उम्र के लोग कर सकें। योग उत्सव में दिल्ली की जुंबा ट्रेनर नियति पुरी ने लोगों को जुबां योग भी करवाया, जिसमें विभिन्न आयुवर्ग के बच्चों ने बढ़-चढ़ कर हिस्सा लिया। उत्सव में गौरी सरीन, अपराजिता शर्मा, जीत पंवार, अजय चावला, रजनीश शुक्ला सहित बड़ी संख्या में लोगों ने हिस्सा लिया।

Posted By: Jagran

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस