जागरण संवाददाता, गुरुग्राम: साइबर सिटी में इस बार करीब एक लाख पौधे हरियाली के दायरे को बढ़ाएंगे। नगर निगम के रिकॉर्ड के मुताबिक इस मानसून सीजन में पार्काें में 80 हजार पौधे लगाए जा चुके हैं। नगर निगम अधिकारियों के मुताबिक एक लाख पौधे लगाने का लक्ष्य रखा गया है। 15 सितंबर तक और भी पौधे लगाए जा सकते हैं। एक सप्ताह में 15 से 20 हजार पौधे लगाने की तैयारी नगर निगम की ओर से की जा रही है। खास बात यह है कि पौधे तो हर साल लगाए जाते हैं, लेकिन देखभाल के अभाव में आधे से ज्यादा पौधे खत्म हो जाते हैं। ऐसे में पौधरोपण अभियान फेल हो जाता है लेकिन इस बार इन पौधों को बचाने के लिए आरडब्ल्यूए की जिम्मेदारी तय की जाएगी।

- 400 से ज्यादा पार्कों की जिम्मेदारी आरडब्ल्यूए के पास

शहर में 400 से ज्यादा पार्कों की देखभाल आरडब्ल्यूए द्वारा की जा रही है। पार्कों के मरम्मत और रखरखाव कार्यों की एवज में नगर निगम आरडब्ल्यूए को बजट देता है। इस बार सभी वार्डों में नगर निगम की ओर से पौधरोपण किया गया है। पौधरोपण के समय से ही इन पौधों की देखभाल आरडब्ल्यूए को करनी होगी। नगर निगम अधिकारियों द्वारा इसकी मॉनीट¨रग भी की जाएगी। शहर में कुल 500 से ज्यादा पार्क हैं।

- घट रहा है हरियाली का क्षेत्र

शहर में लगातार हरियाली का क्षेत्र घटता जा रहा है। नतीजन काफी प्रदूषण के चलते सांस लेना भी मुश्किल हो गया है। यदि पेड़-पौधों की संख्या बढ़ाई जाएगी तो प्रदूषण के स्तर में कमी आएगी। अक्टूबर-नवंबर में पूरे एनसीआर की हवा काफी जहरीली हो जाती है। पौधे लगने से नए ऑक्सीजन पॉकेट तैयार होंगे और प्रदूषण की वजह से स्वास्थ्य संबंधी परेशानी भी कम हो जाएगी। 15 सितंबर तक शहर के पार्कों व खाली जगहों पर करीब एक लाख पौधे लगा दिए जाएंगे। इनकी देखभाल का जिम्मा आरडब्ल्यूए को सौंपा जाएगा।

-अजय निराला, एक्सईएन, बागवानी नगर निगम गुरुग्राम।

Posted By: Jagran