जागरण संवाददाता, गुरुग्राम: मुस्लिम राष्ट्रीय मंच के सौजन्य से गुरुग्राम इमाम संगठन ने सेक्टर-29 स्थित लेजर वैली मैदान में जुमे की नमाज से पहले आजादी के 75वें अमृत महोत्सव के मौके पर तिरंगा फहराया। मंच के राष्ट्रीय संयोजक तथा हरियाणा सरकार में मेवात डेवलपमेंट एजेंसी के पूर्व चेयरमैन खुर्शीद राजाका ने बताया कि तिरंगा फहराने के बाद राष्ट्रगान हुआ और भारत माता की जय तथा वंदे मातरम के नारों के साथ जुमे की नमाज पढ़ी गई। इमाम मौलाना अरशद कासमी ने आजादी के महत्व के बारे में बताते हुए स्वतंत्रता सेनानियों की कुर्बानियों को याद किया।

मुस्लिम राष्ट्रीय मंच के संयोजक खुर्शीद राजाका ने तिरंगा के नीचे जुमे की नमाज पढ़कर कहा कि राष्ट्रध्वज को सलामी और वतनपरस्ती भी इस्लाम का अहम हिस्सा है। इसलिए बलिदानियों के सम्मान में कोई कमी नहीं करनी चाहिए और राष्ट्र विरोधियों के साथ कोई सहानुभूति नहीं रखनी चाहिए। नमाज के बाद सभी इमामों ने स्वतंत्रता सेनानी भवन पहुंचकर स्वतंत्रता सेनानियों को श्रद्धांजलि दी और उनके बलिदान को याद किया। उन्होंने कहा कि देश के सपूतों ने आजादी के संघर्ष में अपना सब कुछ न्यौछावर कर दिया। इन बलिदानियों में हर धर्म और वर्ग के लोग शामिल थे। आज हम सबकों देश की तरक्की में अपना योगदान देना चाहिए।

मंच के संपर्क प्रमुख तथा पूर्व हाकी खिलाड़ी महेंद्र सिंह ने बताया कि मंच के कार्यकर्ता और गुरुग्राम इमाम संगठन के इमाम शनिवार को रोटरी ब्लड बैंक में रक्तदान करके अमृत महोत्सव को यादगार बनाएंगे। कार्यक्रम में सदर मोहम्मद शमून, मौलाना शाकिर, मौलाना ईशा खान, इमाम अफजल, इमाम अफजल सहित हिदू मुस्लिम समाज के प्रमुख लोग शामिल रहे।

Edited By: Jagran