जासं, गुरुग्राम: स्कूल बस का शीशा तोड़ने के आरोपित बुजुर्ग को सिविल लाइंस थाना पुलिस ने मंगलवार देर शाम गिरफ्तार कर लिया। आरोपित की पहचान सेक्टर 15 पार्ट एक निवासी 60 वर्षीय देशराज ¨सह के रूप में हुई। उन्हें मंगलवार देर शाम ही इलाका मजिस्ट्रेट के सामने पेश किया गया, जहां से जमानत मिल गई। बुजुर्ग ने पूछताछ में कहा कि उन्होंने पत्थर नहीं चलाए थे। इसे वीडियो बनाकर इस तरह वायरल कर दिया गया जिससे लगता है कि वह पत्थर चला रहे हैं। उन्होंने हाथ में कड़ा पहन रखा है। हाथ से चोट मारने से ही शीशा टूट गया। वह स्कूल बस पर पत्थर चलाने के बारे में सोच भी नहीं सकते।

सोमवार को सेक्टर 15 पार्ट-एक इलाके में बगल से गुजरती एसयूवी (ब्रेजा) से केआर मंगलम स्कूल की एक बस हल्का सा छू गई थी। इससे नाराज कार चालक देशराज ¨सह ने बस रुकवाकर शीशे पर जोर से हाथ मारा था। इस वजह से शीशा टूट गया। बस में कई बच्चे भी बैठे थे। ¨प्रसिपल प्रिया अरोड़ा की शिकायत पर मंगलवार को सिविल लाइंस थाना पुलिस ने मामला दर्ज कर बुजुर्ग को गिरफ्तार किया। थाना प्रभारी चंद्रप्रकाश ने बताया कि बुजुर्ग ने पत्थर नहीं चलाए थे, केवल शीशे पर जोर से हाथ मारा था। जिस स्कूल की बस थी, उसी में बुजुर्ग की पोती भी पढ़ती है।

Posted By: Jagran