जागरण संवाददाता, गुरुग्राम: सेक्टर नौ स्थित राजकीय महाविद्यालय में 12वें दीक्षांत समारोह का आयोजन हुआ। कॉलेज के प्राध्यापक कैप्टन राजकुमार ने बताया कि समारोह में महर्षि दयानंद विश्वविद्यालय के कुलपति प्रोफेसर राजबीर सिंह मुख्य अतिथि रहे। उन्होंने विद्यार्थियों को शिक्षा के महत्व के बारे में बताते हुए कहा कि वे समय का सदुपयोग करें।

राजबीर सिंह का कहना है कि हम वही बनते हैं जिस तरीके का चुनाव हम अपने लिए करते हैं। हमें अपने जीवन की भूमिका पर ध्यान देना चाहिए जॉब पर नहीं। विद्यार्थियों का मनोबल बढ़ाते हुए इसी प्रकार आगे बढ़ने की सीख दी। कॉलेज के प्राचार्य डॉ. सुरेश धनेरवाल ने बताया कि समारोह में 450 से अधिक विद्यार्थियों को स्नातक एवं स्नातकोत्तर की डिग्री दी गई। उन्होंने विद्यार्थियों को प्रेरित करते हुए कहा कि वे अपनी असफलताओं व जीवन में आने वाली मुश्किलों से सीख लें और बेहतर करें।

इस दौरान प्राध्यापकों की व्यक्तिगत उपलब्धियों, महाविद्यालय की सांस्कृतिक गतिविधियों, प्लेसमेंट सैल, एनएसएस (राष्ट्रीय सेवा योजना), एनसीसी (नेशनल कैडेट्स कोर), सड़क सुरक्षा जागरूकता की वार्षिक गतिविधियों की वार्षिक रिपोर्ट प्रस्तुत की। मुख्य अतिथि प्रोफेसर राजबीर सिंह ने विभिन्न प्रतियोगिताओं में विजेता रहे विद्यार्थियों को पुरस्कृत किया गया। कॉलेज के बीटीएम द्वितीय वर्ष के छात्र रवि को उसकी उपलब्धियों के लिए रोल ऑफ ऑनर से सम्मानित किया गया। 18 छात्र-छात्राओं को उनकी उपलब्धियों के लिए कॉलेज कलर से सम्मानित किया गया।

इस अवसर पर एनसीसी कैडेट सीनियर अंडर ऑफिसर अक्षय कुमार, एनएसएस से खेम सिंह तथा देवांशी त्यागी को खेलों में अच्छा प्रदर्शन करने के लिए कॉलेज कलर से सम्मानित किया गया। परीक्षा शाखा की रजिस्ट्रार डॉ. सुमन संधू द्वारा विद्यार्थियों को सत्य एवं धर्म के मार्ग पर अग्रसर रहने की शपथ दिलवाई गई। सेक्टर 14 स्थित राजकीय महिला महाविद्यालय से संगीत प्राध्यापक डॉ. लोकेश ने सरस्वती वंदना की प्रस्तुति दी। इस अवसर पर कॉलेज से राघवेंद्र सिंह गहलोत, नरेंद्र पाल सिंह दलाल, डॉ. दिलबाग, डॉ.रफीक, डॉ. प्रवीण, ललिता गौड़ समेत सभी प्राध्यापक और स्टाफ सदस्य उपस्थित रहे।

Posted By: Jagran

अब खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस, डाउनलोड करें जागरण एप