संवाद सहयोगी, बादशाहपुर: कुख्यात गैंगस्टरों को दबोचने में कई बड़ी सफलता हासिल कर चुकी स्पेशल टास्क फोर्स (एसटीएफ) एक और बड़ी सफलता मिली है। एसटीएफ ने करीब 25 क्विटल चूरा पोस्त बरामद किया है। इस धंधे से जुड़े चार आरोपितों को भी गिरफ्तार किया गया है। एसटीएफ को इस कारोबार के मुख्य सरगना की अभी तलाश है। चार दिन के रिमांड के बाद एसटीएफ टीम ने चारों आरोपितों को अदालत में पेश किया। अदालत ने चारों आरोपितों को सोनीपत जेल भेज दिया है।

एसटीएफ की टीम को मुखबिर से सूचना मिली कि मुरथल के पास कुछ लोग चूरा पोस्त का धंधा करते हैं। सूचना पर की गई छापेमारी में उनके कब्जे से करीब 13 क्विटल चूरा पोस्त बरामद हुआ। पुलिस ने मौके से चार लोगों को गिरफ्तार किया। उन्होंने अपने नाम रामलखन निवासी जैतपुर, जिला बाराबंकी, मोहम्मद अतीक निवासी पटरी, जिला बाराबंकी, शाहरुन निवासी हसनपुर, जिला सहारनपुर व अली हसन निवासी हसनपुर, जिला सहारनपुर बताए। एसटीएफ टीम ने इनसे कड़ी पूछताछ की, तो इन्होंने उत्तर प्रदेश के शाहजहांपुर में अपना ठिकाना बताया। इनके बताए ठिकाने पर छापेमारी में भी एसटीएफ की टीम को करीब 10 क्विटल चूरा पोस्त मिला। चारों आरोपितों ने शाजापुर के राधेश्याम को इसका मुख्य सरगना बताया है। एसटीएफ की टीम राधेश्याम को तलाश कर रही है। एसटीएफ सूत्रों ने बताया कि शाहजहांपुर में इन लोगों ने चूरा पोस्त से कई तरह के सामान बनाने के लिए पूरा प्लांट लगा रखा है।

एसटीएफ टीम ने भारी मात्रा में चूरा पोस्त बरामद किया है। इस मामले में और भी सुराग हाथ लगे हैं। चारों आरोपितों को रिमांड के बाद अदालत ने जेल भेज दिया है। मुख्य सरगना के पकड़े जाने के बाद काफी बरामदगी की उम्मीद है।

-- सतीश बालन, डीआइजी, एसटीएफ मुख्यालय, भोंडसी

Posted By: Jagran

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस