जागरण संवाददाता, गुरुग्राम: विद्यार्थियों को उद्यमिता की ओर प्रेरित करने के उद्देश्य से ब्रिटेन के स्कूल एंटरप्राइज चैलेंज (एसईसी) ने केआइआइटी व‌र्ल्ड स्कूल में उद्यमिता विषय पर एक कार्यशाला की। कार्यशाला में विद्यार्थियों को बताया गया कि शिक्षक कैसे छात्रों को उद्यमिता के प्रति जागरूक करें और किस तरह की प्रतियोगिता कराई जाएं। स्कूल एंटरप्राइज चैलेंज की प्रबंधक पाओला ने कहा कि स्कूल से ही बच्चों में उद्यमिता कौशल विकसित किया जाना चाहिए। इससे विद्यार्थियों को भविष्य में नौकरी के अलावा एक बड़ा विकल्प रहेगा। कार्यशाला में केआइआइटी की शिक्षिका रश्मि श्रीवास्तव ने केस स्टडी प्रस्तुत की। इस मौके पर केआइआइटी की मेंटर नीलिमा कामराह ने कहा कि उद्यमिता को लेकर विद्यार्थियों को भी सजग होने की जरूरत है। इस तरह की कार्यशाला विद्यार्थियों के मन में उद्यमशीलता की भावना को बढ़ने में मदद करती है और विद्यार्थियों का ज्ञानवर्धन भी करती है।

Posted By: Jagran

अब खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस, डाउनलोड करें जागरण एप