जागरण संवाददाता,गुरुग्राम: पुराने सामान की खरीद बिक्री के ऑनलाइन पोर्टल पर गाड़ी बेचने का विज्ञापन देने के बाद उसे दिखाने के बहाने बुलाकर हथियार के बल नगदी लूट के एक आरोपित को क्राइम ब्रांच सोहना की टीम ने शुक्रवार शाम गांव महेंद्रवाड़ा मोड़ के नजदीक से गिरफ्तार किया है। उसकी पहचान गांव मोहम्मदपुर गुर्जर निवासी इकबाल के रूप में की गई। उससे पूछताछ में अन्य आरोपितों की पहचान की जाएगी।

इसी साल 21 मई को महाराष्ट्र के बीड जिले के गांव घुबाडे निवासी संतोष शीशराव ने भोंडसी थाने में शिकायत दी थी कि उनके दोस्त निलेश ने ऑनलाइन पोर्टल पर एक गाड़ी का विज्ञापन देखा था। इसे खरीदने के लिए गाड़ी मालिक से संपर्क किया। उसने अपने आपको फौजी बताया। 4,51000 रुपये में सौदा किया गया। इसके बाद उन्हें गाड़ी देखने के लिए गुरुग्राम बुलाया। गुरुग्राम बुलाने के बाद उन्हें लेने के लिए दो युवकों को भेजा। दोनों उन्हें स्विफ्ट डिजायर में बैठाकर चल दिए।

गुरुग्राम से लगभग 20 किलोमीटर दूर सुनसान जगह पर कार रोककर दोनों ने उन्हें पिस्टल लगा दी। इसके बाद उनसे तीन लाख रुपये व बाकी पैसे के चेक जो वे लेकर आए थे, छीनकर कार से उतार दिया। तभी से आरोपितों की तलाश की जा रही है। अब जाकर एक आरोपित गिरफ्त में आया है। गिरफ्तार आरोपित ने अपना अपराध स्वीकार कर लिया है। पुलिस प्रवक्ता सुभाष बोकन ने बताया कि जल्द ही अन्य आरोपितों को गिरफ्तार किया जाएगा।

Posted By: Jagran

अब खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस, डाउनलोड करें जागरण एप