गुरुग्राम, जागरण संवाददाता। यदि ओएलएक्स पर विज्ञापन देकर किसी सामान को बेचना चाहते हैं तो समझदारी से काम लें, आपके विज्ञापन पर दिए फोन नंबर पर कोई ठग भी खरीदार बन संपर्क कर सकता है। झांसे में लेकर वह आपके साथ ठगी भी कर लेगा। ऐसे मामले रोजाना सामने आ रहे हैं। ऐसा ही एक मामला शनिवार को दर्ज हुआ। एक महिला के खाते से चालीस हजार की रकम निकाल ली गई। साइबर क्राइम टीम व सदर थाना पुलिस अज्ञात ठग का पता लगा रही है।

सेक्‍टर 47 में हुई ठगी

पुलिस के अनुसार, मामले की शिकायत सेक्टर-47 निवासी महिला प्रियंका ने दी है। प्रियंका ने ओएलएक्स ऐप डाउनलोड कर बेड बेचने के लिए ऐड पोस्ट की। ऐड पर 24 हजार की सेल प्राइस लिखी, जिसके बाद एक नंबर से उनके मोबाइल पर एक व्यक्ति की कॉल आई। उसने 23 हजार में बेड खरीदने की हामी भरी। उसने यह भी कहा कि ऐड को तुरंत डिलीट कर दीजिए। उसने टोकन के तौर पर 10 हजार रुपये गूगल-पे या फोन-पे से भेजने के बारे में कहा।

बार कोड भेज कर दिया झांसा

रकम भेजने के लिए महिला के गूगल-पे वॉलेट का बारकोड वॉट्सऐप पर मांगा। महिला ने जानकारी शेयर कर दी। इसके बाद उसने कॉल कर रिक्वेस्ट भेजी और पे बटन दबाने को कहा। महिला ने इनकार किया तो बोला मैं भेज रहा हूं और जब तक आप पे बटन नहीं क्लिक करोगे, मैं ट्रांजेक्शन नहीं कर पाऊंगा। महिला झांसे में आ गई और पे बटन क्लिक कर दिया।

दोबारा दिया झांसा

दोबारा से 10 हजार भेजने का मेसेज आया जिस पर महिला ने क्लिक कर दिया। इसी तरह 20 हजार का एक अन्य ऑप्शन पर क्लिक किया। उसने फिर से 20 हजार का मैसेज भेजा तो महिला को कुछ शक हुआ। उसने नेट बैंकिंग के जरिए चेक किया तो खाते से 40 हजार रुपये कट गए थे। तब शिकायत पुलिस को दी गई। सदर थाना प्रभारी इंस्पेक्टर नवीन ने बताया कि अज्ञात के खिलाफ एफआइआर दर्ज की गई है।

दिल्‍ली-एनसीआर की खबरों को पढ़ने के लिए यहां करें क्‍लिक

Posted By: Prateek Kumar

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस