नई दिल्ली/गुरुग्राम, जेएनएन। LockDown Day 4 Delhi-Gurugram border: दिल्ली से सटे यूपी के साथ हरियाण के बॉर्डर भी सील होने से हजारों लोगों की रोजी-रोटी पर संकट के बादल मंडराने लगे हैं। शनिवार सुबह भी दिल्ली-गुरुग्राम बॉर्डर पर भारी चेकिंग के चलते वाहनों की लंबी कतार लगी हुई हैं। हरियाणा सरकार के आदेश के बाद पुलिस कर्मी संबंधित विभाग द्वारा जारी पास और पहचान पत्र देखने के बाद ही सीमा पार करने दे रहे हैं। 

इससे पहले शुक्रवार को दिनभर सिरहौल बॉर्डर, कापसहेड़ा बॉर्डर एवं आया नगर बॉर्डर पर दिन भर रहा ट्रैफिक का दबाव रहा। प्रदेश के गृह मंत्री अनिल विज के आदेशानुसार गुरुग्राम पुलिस ने सीमावर्ती इलाकों के सभी नाकों पर शुक्रवार सुबह से सख्ती बढ़ा दी। इससे सिरहौल बॉर्डर, कापसहेड़ा बॉर्डर, सालापुर बॉर्डर एवं आया नगर बॉर्डर पर दिन भर ट्रैफिक जाम की स्थिति बनी रही। लॉकडाउन से पहले प्रतिदिन जिस तरह पीक आवर के दौरान सिरहौल बॉर्डर पर ट्रैफिक का दबाव बन जाता था, उसी तरह का दबाव शुक्रवार को दिखा। सिरहौल बॉर्डर से पीछे दिल्ली की तरफ एक किलोमीटर तक जाम पहुंच गया था। इससे वाहन चालकों को काफी परेशानी हुई। प्रतिदिन की तरह ही शुक्रवार को भी कापसहेड़ा बॉर्डर तक हजारों श्रमिक उद्योग विहार इलाके में काम करने के लिए पहुंचे लेकिन पुलिसकर्मियों ने उन्हें गुरुग्राम सीमा में प्रवेश करने नहीं दिया। इस वजह से कई बार पुलिसकर्मियों व श्रमिकों के बीच झड़प हुई।

बता दें कि वैश्विक महामारी कोरोना संक्रमित मरीजों की तेजी से बढ़ती संख्या को देखते हुए गृह मंत्री अनिल विज ने सीमाओं पर सख्ती बढ़ाने का आदेश बृहस्पतिवार रात जारी कर दिया। आदेशानुसार सुबह सात बजे से गुरुग्राम पुलिस ने सीमाओं पर लगाए गए नाकों पर सख्ती बरतनी शुरू कर दी थी। ई-पास वाले वाहनों की भी बारीकी से जांच शुरू कर दी गई है। इसका नतीजा यह हुआ कि सुबह आठ बजे के बाद जैसे ही ट्रैफिक का दबाव बढ़ा, दिल्ली-गुरुग्राम एक्सप्रेस-वे पर सिरहौल बॉर्डर से लेकर पीछे दिल्ली इलाके में रजोकरी बॉर्डर से आगे तक जाम पहुंच गया था। 

Posted By: JP Yadav

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस