गुरुग्राम, जागरण संवाददाता। लॉकडाउन के दौरान शहर के रिहायशी इलाकों में रोजर्मरा का सामान व राशन पहुंचाने के लिए दो सिटी बसें लगाई गई हैं। गुरुग्राम मेट्रोपॉलिटन सिटी बस लिमिटेड की दो सिटी बसों को मोबाइल ग्रोसरी (राशन) स्टोर बनाया गया है। एक तरह से यह चलती-फिरती राशन की दुकान है। जिला प्रशासन की ओर से से इन सिटी बसों की मांग की गई थी।

जीएमसीबीएल द्वारा मोबाइल ग्रोसरी स्टोर के लिए फिलहाल दो बसें उपलब्ध करवाई गई हैं, जरूरत पडऩे पर और भी बसें दी जा सकती हैं। ये बसें राशन के होल सेल विक्रेताओं से सामान लेकर आरडब्ल्यूए और रिटेल प्वाइंट तक पहुंचा रही हैं।

लॉकडाउन के दौरान राशन और घरों में जरूरत के सामान की कोई कमी न रहे, इसके लिए प्रशासन द्वारा तैयारी की जा रही है। जिन सोसायटियों व सेक्टरों में राशन की जरूरत है, उनके आरडब्ल्यूए को प्रशासन से संपर्क करने को कहा गया है। आरडब्ल्यूए द्वारा राशन की मांग करने पर उन जगहों पर राशन की आपूर्ति शुरू कर दी गई है।

वहीं, कोरोना वायरस के कारण किए गए लॉक डाउन के दौरान नगर निगमों को शहर के लोगों को जरूरत की चीजें मुहैया करवानी होगी। इसके साथ ही कोरोना से बचाव के उपाय भी करने होंगे। इस संबंध में शहरी निकाय निदेशालय की ओर से आदेश जारी कर दिए हैं। आदेशों के मुताबिक जरूरतमंद परिवारों को सूखा राशन यानी आटा, चावल, दाल, चीनी व तेल आदि चीजें उपलब्ध करवानी होगी, ताकि उनको किसी तरह की कोई परेशानी न हो।

इसके लिए नगर निगम कों अपने म्यूनिसिपल फंड का इस्तेमाल करने का कहा गया है। बता दें कि गुरुग्राम नगर निगम द्वारा शहर की सोसायटी व रिहायशी इलाकों में कई जगह सैनिटाइज करने का कार्य किया गया है, लेकिन शहर में व्यापक स्तर पर स्प्रे करने की जरूरत है।बुधवार को मुख्यालय की ओर से नगर निगम के रैन बसेरों में भी लोगों के लिए खाने का इंतजाम करने के आदेश भी दिए जा चुके हैं।गुरुग्राम के रैन बसेरों में खाने की सुविधा उपलब्ध करवाने के लिए निगम द्वारा तैयारी की जा रही है।

Posted By: Prateek Kumar

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस