गुरुग्राम, जागरण संवाददाता। Delhi-Mumbai Expressway: दिल्ली-मुंबई एक्सप्रेस-वे पर गुरुग्राम के गांव अलीपुर से राजस्थान में दौसा के बीच दिसंबर से वाहन दौड़ने लगेंगे। 250 किलोमीटर के इस हिस्से को अंतिम रूप देने का काम शुरू कर दिया गया है। इसके चालू होते ही लोग अलवर से दौसा की दूरी अधिक से अधिक दो से ढाई घंटे में तय कर सकेंगे। इस तरह दिल्ली से भी राजस्थान के दौसा जाना आसान हो जाएगा।

हजारों वाहन चालकों को मिलेगा लाभ

जागरण संवाददाता के मुताबिक, गांव अलीपुर के साथ ही केएमपी एक्सप्रेस-वे के नजदीक गांव मिंडकोला में भी बड़ा जंक्शन होगा। इसके बनने से केएमपी एक्सप्रेस-वे से आने वाले वाहन सीधे मुंबई एक्सप्रेस-वे पर चले जाएंगे, इसका लाभ रोजाना हजारों वाहन चालक ले सकेंगे। 

95 हजार करोड़ में बनेगा दिल्ली-मुंबई एक्सप्रेस-वे

भारतीय राष्ट्रीय राजमार्ग प्राधिकरण (एनएचएआइ) द्वारा राष्ट्रीय राजधानी दिल्ली से देश की आर्थिक राजधानी के रूप में शुमार मुंबई सहित देश के कई प्रमुख शहरों की कनेक्टिविटी बेहतर करने के उद्देश्य से 1380 किलोमीटर लंबे दिल्ली-मुंबई एक्सप्रेस-वे का निर्माण किया जा रहा है। इसके निर्माण पर 95 हजार करोड़ की लागत आएगी।

अलीपुर में बनेगा जंक्शन

एनएचएआइ के अधिकारियों के मुताबक, प्रोजेक्ट को कई भागों में बांटा गया है। एक्सप्रेस-वे की शुरुआत गुरुग्राम में सोहना के नजदीक गांव अलीपुर से हो रही है। अलीपुर में जंक्शन का निर्माण किया जा रहा है, ताकि गुरुग्राम-अलवर हाईवे से आने वाले वाहन सीधे दिल्ली-मुंबई एक्सप्रेस-वे पर चले जाएं।

किया जा रहा है उम्दा काम 

मुदित गर्ग, परियोजना निदेशक, एनएचएआइ (सोहना) का कहना है कि दिल्ली-मुंबई एक्सप्रेस-वे का निर्माण काफी तेजी से किया जा रहा है। अलीपुर से दौसा के बीच का निर्माण लगभग पूरा हो चुका है। इसके चालू होने से समय और ईंधन की काफी बचत होगी। काम में किसी भी स्तर पर कमी न रहे, इसका विशेष ध्यान रखा जा रहा है।

Haryana Politics: गुरुग्राव के एक गांव में बीसीए श्रेणी का एक भी वोटर नहीं, फिर भी सरपंच का पद किया आरक्षित

वाहन चालक ध्यान दें, 25 अक्टूबर से दिल्ली में पेट्रोल-डीजल लेने के लिए जरूरी होगा PUC Certificate

Edited By: JP Yadav

जागरण फॉलो करें और रहे हर खबर से अपडेट