जागरण संवाददाता, गुरुग्राम: सुशांत लोक सी-2 स्थित राजकीय प्राथमिक पाठशाला, गुरुग्राम में कार्यरत प्राथमिक शिक्षक मनोज कुमार को नवोदय क्रांति के राज्य प्रेरक (स्टेट मोटिवेटर) के रूप में चुना गया है। मनोज कुमार ने बताया कि उनको प्राथमिक शिक्षा के क्षेत्र में सकारात्मक ²ष्टिकोण के साथ समर्पित तरीके से कार्य करने और विभिन्न नई खोज करने के लिए नवोदय क्रांति राष्ट्रीय कार्यकारिणी द्वारा राज्य प्रेरक के रूप में चयनित किया गया है।

मनोज कुमार ने बताया कि नवोदय क्रांति सरकारी शिक्षकों का एक ऐसा समूह है जो बिना किसी विरोध प्रदर्शन के सरकारी शिक्षा में क्रांतिकारी बदलाव के लिए कार्य करते हैं, और सरकारी स्कूलों को स्मार्ट स्कूल बनाने तथा पढ़ाई को सरल तथा प्रभावशाली बनाने के लिए कार्य कर रहे हैं। मनोज कुमार के अनुसार सरकारी शिक्षा निजी शिक्षा तंत्र से काफी बेहतर होती है मगर कुछ कारणों से सरकारी शिक्षा आज भी लोगों को बहुत ज्यादा आकर्षित नहीं कर पा रही है।

सरकारी स्कूलों में शिक्षा के स्तर को बेहतर बनाने के लिए नवोदय क्रांति समूह काम कर रहा है। इस समूह में केवल वही शिक्षक शामिल होते हैं जो सरकारी स्कूलों में कार्यरत हों और निस्वार्थ भाव से काम कर राजकीय विद्यालयों में शिक्षा एवं स्थिति दोनों के लिए सुधार हेतु समर्पित हों। उन्होंने राज्य प्रेरक चुने जाने पर नवोदय क्रांति के फाउंडर संदीप ढिल्लों के प्रति आभार जताया और कहा कि वे अपनी नई जिम्मेदारी के साथ सरकारी विद्यालयों में शिक्षा की गुणवत्ता को और अधिक बेहतर बनाने के लिए पूरी निष्ठा से कार्य करेंगे।

Posted By: Jagran