संवाद सहयोगी, पिनगवां (नूंह) :

यहां के गांव रीठट में फजल नामक युवक की हत्या कर दी गई। सनसनीखेज वारदात को अंजाम गांव के ही 21 लोगों ने दिया। हमलावरों ने युवक को पहले लाठी डंडे से पीटा फिर गोली मार दी। बृहस्पतिवार शाम हुई घटना की सूचना मिलते ही पुलिस गांव पहुंची और शव को कब्जे में लेकर पोस्टमार्टम कराने के लिए मांडीखेड़ा स्थित अल-आफिया अस्पताल भेज दिया। पुलिस ने हत्या के आरोप के तहत पिनगवां थाना में 21 लोगों के खिलाफ मामला दर्ज किया है। आरोपित घर से फरार हैं उनकी तलाश करने में तीन टीम लगी हुई है।

फजल की गांव में ही रहने वाले जाहुल से किसी बात को लेकर कहासुनी हो गई थी। लोगों ने बीच में पड़कर मामले को शांत करा दिया। कुछ देर बाद ही जाहुल अपने परिवार के बीस से अधिक लोगों को लेकर फजल को मारने के लिए पहुंच गया। बताते हैं कि उस वक्त फजल ने छिपकर जान बचा ली थी। बुधवार को भी आरोपित फजल को मारने के लिए खोज रहे थे। जान बचाने के लिए फजल गांव में ही रहने वाले फारुख के घर में छिप गया था। हमलावर उनके घर भी गए मगर फारुख ने उन्हें वहां से हटा दिया था। बृहस्पतिवार को फजल अपने घर डर के मारे नहीं गया और गांव में खुले सरकारी स्कूल की छत पर छिपकर बैठ गया। जाहुल को वहां होने की जानकारी मिली तो 20 से अधिक लोगों के साथ वहां पहुंचा उसके साथ परिवार की महिलाएं भी थी स्कूल परिसर को घेरने के बाद जाहुल, आजाद, उस्मान, जफरू, रफीक, जुनैद, वकील, मिसलू, सहित कई लोगों के साथ छत पर चढ़ा और छिपकर बैठे फजल को पहले लाठी डंडों से पीटा फिर गोली मार दी। जिससे फजल की मौत हो गई। पुलिस को दिए बयान में बिलाल, फारूख और जहीर ने बताया कि फजल चीखता रहा मगर इंसान से हैवान बने लोगों ने उसे पीट-पीटकर मरणासन्न करने के बाद गोली मारी। थाना प्रभारी चन्द्रभान का का कहना है कि 21 लोगों के खिलाफ हत्या का मामला दर्ज करके जांच शुरू कर दी है। आरोपितों को जल्द पकड़ लिया जाएगा। गांव में तनाव की स्थित देखते हुए पुलिस बल तैनात कर दिया गया है।

Posted By: Jagran

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस