जागरण संवाददाता, गुरुग्राम: साइबर सिटी में लॉकडाउन का अब पूरा असर नजर आने लगा है। लोग घरों से बाहर नहीं निकल रहे हैं और बेवजह घरों से बाहर निकलने वालों से पुलिस सख्ती से निपट रही है। मंगलवार को पुलिस ने बिना जरूरी काम से घरों से बाहर घूमने वाले 40 लोगों के चालान काटे और चार वाहनों को जब्त किया। शहर की मुख्य सड़कों पर पुलिस ने चेकिग के लिए नाके लगा रखे हैं। दिनभर दिल्ली-जयपुर हाइवे सहित शहर की आंतरिक सड़कें भी सुनसान नजर आईं। किराने की दुकानों पर शारीरिक दूरी बनाए रखने के आदेश तो हैं ही इसके साथ ही इन दुकानों को भी अब शिफ्टों में खोला जाने लगा है। एक ही एरिया में एक समय में ज्यादा दुकानें खोलने पर पाबंदी है। पुलिस और प्रशासन ने शहरी क्षेत्र में किराने की दुकानों को जरूरत के हिसाब से खोलने का समय निश्चित कर दिया है। खांडसा सब्जी मंडी: शहर की सबसे बड़ी खांडसा सब्जी मंडी में सुबह सात बजे से पहले ही रेहड़ी वाले और दुकानदार सब्जी खरीदकर चले गए थे। दिन में यहां पर किसी तरह की मंडी लगाने की इजाजत नहीं दी गई और पुलिस की भी तैनाती की गई थी। सब्जी मंडी के गेट पर पुलिसकर्मी तैनात किए गए थे और मंडी का गेट भी दिन में बंद रहा। सुबह के वक्त भी सब्जी मंडी में दुकानदारों और सब्जी विक्रेताओं को शारीरिक दूरी का विशेष ध्यान रखने की हिदायत दी गई थी। मंडियों में अब किसी भी तरह लोगों को एक जगह पर जमा होने नहीं दिया जा रहा है। गुरुद्वारा सब्जी मंडी: शहर की दूसरी बड़ी सब्जी और फल मंडी गुरुद्वारे के सामने है। सदर बाजार के नजदीक स्थित इस सब्जी मंडी में मंगलवार को अन्य दिनों के मुकाबले ज्यादा संख्या में लोग दिखाई नहीं दिए। यहां तीन दुकानों पर ही सब्जी-फल बेचने की परमिशन दी गई थी। ऐसे में यहां पर भी लोग एकत्रित नहीं हो सके। पुलिस भी मंडियों पर नजर रख रही है। सुनसान हुआ इंडस्ट्रियल एरिया: बहरामपुर, नरसिंहपुर, सेक्टर 37 आदि इंडस्ट्रियल एरिया सुनसान हो गए हैं। लॉकडाउन के चलते फैक्ट्रियों और कंपनियों के बंद होने से कामगार भी घरों से बाहर नहीं निकल रहे हैं। बाहरी राज्यों के लोग शहर की फैक्ट्रियों और कंपनियों में काम करते हैं। लॉकडाउन होने के बाद काफी लोग अपने घरों को भी लौट गए हैं।

दुकानदारों के किए चालान

लॉकडाउन के चलते जरूरी वस्तुओं की बिक्री में अनियमितताएं बरतने तथा ज्यादा रेट वसूलने पर मंगलवार को खाद्य एवं आपूर्ति विभाग की टीम ने जिला में पांच अलग-अलग स्थानों पर ग्रोसरी स्टोर तथा दुकानों पर छापे मारे और संचालकों तथा दुकानदारों के चालान किए। जिन स्टोरों के आज चालान किए गए हैं उनमें अपोलो फार्मेसी सेक्टर 47, मोर रिटेल स्टोर सेक्टर 47, मीना जनरल स्टोर डीएलएफ फेज 1, न्यू श्याम स्टोर सुशांत लोक 1 तथा सेक्टर 9 स्थित एमबी सुपर मार्ट शामिल हैं।

जिला खाद्य एवं आपूर्ति नियंत्रक मोनिका ने बताया कि सेक्टर 47 स्थित अपोलो फार्मेसी में बीपी मॉनीटरिग मशीन तथा थर्मामीटर बिना लाइसेंस के बिक्री करते पाए गए और इसी सेक्टर के मोर रिटेल स्टोर में जो सामान का वजन लेने के लिए मशीन रखी गई थी, उस पर सक्षम अथॉरिटी की मोहर नहीं थी। इसी प्रकार डीएलएफ फेज 1 में स्थित मीना जनरल स्टोर में खरीददारों से एमआरपी से ज्यादा वसूला जा रहा था। उन्होंने बताया कि सुशांत लोक फेज 1 स्थित न्यू श्याम स्टोर में राइस बैग पर मूल्य अंकित नहीं था जो कि नियम अनुसार होना चाहिए। इसी प्रकार सेक्टर 9 के एमबी सुपर मार्ट में भी पैकिग सामान पर रेट प्रदर्शित नहीं किए गए थे जो नियमों का उल्लंघन है।

Posted By: Jagran

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस