संदीप रतन, गुरुग्राम

साइबर सिटी में ट्रैफिक के दबाव के चलते बढ़ रहे जाम को कम करने के लिए सड़कों और चौराहों के डिजाइन बदले जाएंगे। इसके लिए गुरुग्राम मेट्रोपॉलिटन डेवलपमेंट अथॉरिटी (जीएमडीए) ने योजना तैयार की है। योजना के तहत बख्तावर चौक और मेफील्ड गार्डन के नजदीक टी प्वाइंट का डिजाइन बदलकर ट्रैफिक जाम को घटाने का प्रयास किया जाएगा। सिर्फ यही नहीं शहर की अन्य सड़कों और चौराहों के सुधारीकरण के लिए भी योजना तैयार की जा रही है। जीएमडीए की मोबिलिटी विग द्वारा काफी पर नई स्मॉर्ट ट्रैफिक लाइटें लगाने और खराब ट्रैफिक लाइटों को बदलने का काम भी किया जा रहा है। एक करोड़ रुपये होंगे खर्च

बख्तावर चौक और मेफील्ड गार्डन के नजदीक सड़क सुधारीकरण के लिए पहले स्टडी की गई है। बख्तावर चौक पर एनएच-8 की तरफ से जाने वाले वाहन चौक पर लगी ट्रैफिक लाइट पर काफी देर तक रुकते हैं। अगर इस चौक से हुडा सिटी सेंटर की ओर जाना हो तो चौक पर ही बनी स्लीप या सर्विस रोड से वाहन बाईं ओर मुड़ जाते हैं। लेकिन यह सर्विस रोड काफी छोटी है और बिल्कुल चौराहे से ही कटती है। सेक्टर 47 और मेफील्ड गार्डन की तरफ जाने वाले वाहन भी यहां पर फंस जाते हैं। ऐसे में इस सर्विस रोड को चौराहे से काफी पीछे से ही शुरू किया जाएगा ताकि हुडा सिटी सेंटर की तरफ जाने वाले वाहन आसानी से पहले ही इससे निकल जाएं। इसी तरह मेफील्ड गार्डन के नजदीक भी दो प्वाइंट पर नई सर्विस रोड का निर्माण करवाया जाएगा। मोबिलिटी सर्वे रिपोर्ट भी तैयार

गुरुग्राम-मानेसर मोबिलिटी प्लान तैयार करने के लिए सर्वे किया गया था। अब यह सर्वे रिपोर्ट भी तैयार हो चुकी है। गुरुग्राम और मानेसर में लगने वाले ट्रैफिक जाम के कारणों का पता लगाया गया है। अब जाम को घटाने के लिए इस प्लान पर जीएमडीए की ओर से काम शुरू किया जाएगा। - बख्तावर चौक और मेफील्ड गार्डन के नजदीक लगने वाले ट्रैफिक जाम को घटाने के लिए योजना तैयार की जा चुकी है। जल्द काम शुरू किया जाएगा।

-जेएस सिधू, इंजीनियर ट्रैफिक, जीएमडीए।

Posted By: Jagran

अब खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस, डाउनलोड करें जागरण एप