जागरण संवाददाता, गुरुग्राम: पिछले वर्ष 16 जनवरी को जिले में कोरोनारोधी टीकाकरण अभियान शुरू हुआ था और रविवार को अभियान को एक वर्ष पूरा हो गया। इस दौरान स्वास्थ्य विभाग टीम ने जिले में 46,39,575 कोरोनारोधी टीके लगाए। टीकाकरण अभियान के नोडल अधिकारी उप सिविल सर्जन डा. एमपी सिंह ने बताया कि जिले में 25,63,533 को पहला और 20,76,042 को दूसरा टीका लगाया जा चुका है। इसमें 13,201 सतर्कता डोज भी शामिल है।

वहीं रविवार को शहर में दो स्थानों पर ड्राइव- थ्रू समेत 130 केंद्रों पर कोरोनारोधी टीकाकरण अभियान चलाया गया। 9455 लोगों का टीकाकरण किया गया। 3616 को पहला और 4921 को दूसरा टीका लगाया गया। इसमें 918 सतर्कता डोज लगाई गई। डाक्टर सिंह ने बताया कि एंबियंस माल की पार्किंग और साइबर हब पी2 में पार्क प्लस एप्लिकेशन के सहयोग से ड्राइव थ्रू चलाया गया। रविवार को टीकाकरण ::

- 15 से 18 आयु वर्ग में 1030 किशोरों को पहला टीका लगाया।

- 18 से 44 आयु वर्ग में 6543 लोगों को टीके लगाए। इसमें 2219 को पहला और 4252 को दूसरा टीका लगाया।

- 45 से 59 आयु वर्ग में 727 लोगों को टीके लगाए। इसमें 204 को पहला और 523 को दूसरा टीका लगाया।

- प्लस 60 आयु वर्ग में 962 लोगों को टीके लगाए। इसमें 91 को पहला, 143 को दूसरा और 728को सतर्कता डोज लगाई गई है, जो किसी न किसी बीमारी से ग्रस्त हैं।

- 174 स्वास्थ्य कर्मियों को टीके लगाए। इसमें दो को कोरोना का दूसरा टीका तथा 172 कर्मियों को सतर्कता डोज लगाई।

- 19 फ्रंटलाइन वर्कर्स को टीके लगाए। इसमें एक को दूसरा कोरोना टीका और 18 को सतर्कता डोज लगाई।

टीकाकरण करने में हम एक वर्ष के दौरान कामयाबी के शिखर पर पहुंचे। इसमें स्वास्थ्य विभाग के डाक्टर तथा स्वास्थ्य कर्मी,आशा और आंगनबाड़ी वर्कर्स की बड़ी मेहनत रही है। जनता का प्रधानमंत्री की अपील पर वैक्सीन के प्रति विश्वास कामयाबी का बड़ा कारण बना।

- डा. विरेंद्र यादव, सिविल सर्जन

Edited By: Jagran