महावीर यादव, बादशाहपुर

दीपावली के पूजन के लिए गाय के गोबर से निर्मित दीये और लक्ष्मी गणेश की प्रतिमा की बिक्री बढ़ाने के लिए गोसेवा आयोग लगातार प्रयास कर रहा है। शहर में गो ग्रास रथ के माध्यम से इन दीयों और लक्ष्मी गणेश की प्रतिमा को घर-घर पहुंचाने का काम किया जा रहा है। बुधवार को डा. बल्लभ भाई कथीरिया ने वर्चुअल बैठक कर सभी गोशाला संचालकों को दीवाली के पर्व पर गाय के गोबर से निर्मित उत्पादों की बिक्री बढ़ाने की रणनीति पर चर्चा की।

गौशालाओं की आर्थिक हालत सुधारने के लिए राष्ट्रीय गोसेवा आयोग ने बड़ा कदम उठाया है। राष्ट्रीय कामधेनु आयोग ने सभी गोशालाओं में गाय के गोबर से कई तरह के उत्पाद तैयार करने की योजना बनाई। दीपावली के अवसर पर गाय के गोबर से दीये और लक्ष्मी गणेश की प्रतिमा पर इस समय सबसे ज्यादा जोर दिया जा रहा है। इन दीयों और लक्ष्मी गणेश की प्रतिमा की मांग भी काफी बढ़ रही है।

गीता मनीषी स्वामी ज्ञानानंद के सानिध्य में 16 अक्टूबर को केंद्रीय गोसेवा प्रमुख अजीत महापात्र, राष्ट्रीय कामधेनु आयोग के पूर्व अध्यक्ष डा. वल्लभभाई कथीरिया, हरियाणा गोसेवा आयोग के अध्यक्ष श्रवण गुप्ता, उपाध्यक्ष विद्यासागर बाघला, सचिव चितरंजन कादियान, गोसेवा आयोग के सदस्य पूरन यादव ने गोशालाओं में दीये और लक्ष्मी गणेश की प्रतिमा बनाने का प्रशिक्षण दिया। प्रशिक्षण लेने के बाद महिलाएं गोशालाओं में दीये और लक्ष्मी गणेश की प्रतिमा बनाने का काम कर रही हैं।

बैठक में डा. बल्लभ भाई ने बताया कि अमेजन एप के माध्यम से उत्पादों की बिक्री का काम किया जा रहा है। गोवंश की रक्षा के लिए गौशालाओं की हालत सुधारने के लिए राष्ट्रव्यापी अभियान शुरू किया गया है। इस अभियान के तहत सभी गोशालाओं को आर्थिक रूप से सशक्त बनाने के लिए गाय के गोबर से कई तरह के उत्पाद बनाना शुरू किया गया है। उत्पाद बनाना आसान है, मगर इनकी बिक्री के लिए लोगों में जागरूकता पैदा करना बड़ा काम है। उन्होंने सभी गोशाला संचालकों का आह्वान किया कि वे लोगों को गाय के गोबर से निर्मित उत्पादों को खरीदने के लिए भी प्रेरित करें।

हरियाणा गोसेवा आयोग के सदस्य पूरन यादव ने बताया कि गोग्रास रथ के माध्यम से गाय के गोबर से निर्मित दीये और लक्ष्मी गणेश की प्रतिमा को घर-घर पहुंचाने का काम किया जाएगा। शहर में एक रोटी एक रुपया अभियान के साथ 120 गो ग्रास रथों का संचालन किया जा रहा है। इन सभी रथ संचालकों को गोमय दीपक व लक्ष्मी गणेश प्रतिमा की बिक्री के लिए प्रेरित किया गया है। शहर में गली-गली घूम कर गोशाला में गायों के लिए रोटी एकत्रित करने वाले इन गो ग्रास रथ संचालकों से कोई भी व्यक्ति गोमय दीपक व लक्ष्मी गणेश की प्रतिमा खरीद सकता है।

Edited By: Jagran