जागरण संवाददाता, गुरुग्राम: परिवार पहचान पत्र से संबंधित डाटा अपडेट करने को लेकर जिला प्रशासन काफी गंभीर है। आने वाले 10 दिनों तक यह काम मिशन मोड पर होगा। पहचान पत्र पर परिवार के मुखिया के हस्ताक्षर के साथ डाटा अपडेट होगा। इसके लिए आयोजित कैंपों में रोजाना ढाई सौ से लेकर तीन सौ तक परिवारों के डाटा अपडेशन का लक्ष्य निर्धारित किया गया है।

परिवार पहचान पत्र बनाने को लेकर जिले में नियुक्त नोडल अधिकारी एवं अतिरिक्त उपायुक्त प्रशांत पवार का कहना है कि परिवार पहचान पत्र के लिए ली जाने वाली जानकारी पूरी तरह से सही होनी चाहिए। इसलिए डाटा को पूरी तरह से अपडेट तभी माना जाएगा जब परिवार के मुखिया के हस्ताक्षर के साथ इसे अपलोड किया जाएगा। उन्होंने इस कार्य में तेजी लाने के लिए संबंधित अधिकारियों के साथ एक बैठक की। जो लोक निर्माण विश्राम गृह में आयोजित की गई। नगर निगम क्षेत्र के प्रत्येक जोन में छह वार्ड बनाए गए हैं और प्रत्येक वार्ड में तीन शिविर लगाए जाएंगे। डाटा अपडेट करने के लिए हर शिविर में दो से तीन आपरेटर लगाए जाएंगे।

अतिरिक्त उपायुक्त ने बताया कि जिले में अब तक एक लाख 25 हजार से अधिक परिवारों का डाटा अपडेट व सत्यापित किया जा चुका है। अतिरिक्त उपायुक्त ने कहा कि परिवार पहचान पत्र के डाटा एकत्र होने से सरकार को जनकल्याण संबंधी योजनाएं प्रभावी तौर से बनाने में मदद मिलेगी।

शॉर्ट मे जानें सभी बड़ी खबरें और पायें ई-पेपर,ऑडियो न्यूज़,और अन्य सर्विस, डाउनलोड जागरण ऐप

budget2021