संवाद सहयोगी, नया गुरुग्राम: सेक्टर-85 स्थित ओरिस कारनेशन रेजीडेंसी सोसायटी के साथ सटकर खाली प्लाट में लगाए गए मोबाइल टावर को रातो-रात चालू कर दिया। इस टावर का सोसायटी वासी विरोध कर रहे थे और डीटीपीई की तरफ से बीते साल टावर कंपनी और जमीन मालिक को नोटिस भी जारी हो चुका है। स्थानीय निवासियों की मानें तो यह भी नहीं पता कि टावर की स्वीकृति भी ली गई है या नहीं।

सोसायटी निवासी ध्रुव कपूर का कहना है कि टावर विजन कंपनी की तरफ से यह टावर लगाया गया है और इस संबंध में डीटीपी एन्फोर्समेंट नगर योजनाकार विभाग कार्यालय की तरफ से बीती वर्ष 16 जनवरी को टावर कंपनी और जमीन मालिक रवि कुमार को कारण बताओ नोटिस भी जारी हो चुका है। जब यह टावर खड़ा किया गया था तब इसकी स्वीकृति भी नहीं थी और इसे आपरेशनल भी नहीं किया गया था। सोसायटी निवासियों ने टावर कंपनी से स्वीकृति मांगी लेकिन कंपनी ने आज तक अनुमति नहीं दिखाई और कंपनी प्रतिनिधियों की तरफ से बार-बार रात में टावर को अवैध रूप से चालू करने का प्रयास किए जा रहे थे।

सोसायटी निवासी योगेश मोर का कहना है कि सोसायटी में 1500 से अधिक फ्लैट और वर्तमान में भी यहां 1200 से अधिक परिवार रह रहे है। अब टावर चालू होने से इसका सारा प्रभाव सोसायटी निवासियों के स्वास्थ्य पर ही पड़ेगा। टावर हटाने को लेकर सोसायटी की आरडब्ल्यूए की तरफ से नगर निगम आयुक्त को भी पत्र लिखा गया था। लेकिन आज तक इस पर कोई कार्रवाई नहीं हुई। कंपनी से टावर की अनुमति के कागजात मांग कर जांच की जाएगी और जो भी उचित कार्रवाई बनेगी, अमल में लाई जाएगी।

-आरएस बाठ, डीटीपी एन्फोर्समेंट

Indian T20 League

शॉर्ट मे जानें सभी बड़ी खबरें और पायें ई-पेपर,ऑडियो न्यूज़,और अन्य सर्विस, डाउनलोड जागरण ऐप

kumbh-mela-2021