संवाद सहयोगी, पटौदी

शहर में शीघ्र ही ई-लाइब्रेरी अस्तित्व में आएगी। पटौदी के विधायक सत्य प्रकाश जरावता ने 2.56 करोड़ की लागत से बनने वाली इस लाइब्रेरी का शनिवार को शिलान्यास किया। इस मौके पर विधायक ने पटौदी के शमशान स्थल में सीएनजी चलित शव दाहगृह की जिम्मेदारी कमेटी को सौंप दी। नगरपालिका ने इसे लगभग 67 लाख की लागत से तैयार किया है।

मालूम हो कि नगरपालिका की वार्ड पांच में स्थित लगभग एक ह•ार वर्ग मीटर की इस भूमि पर अतीत में लोक निर्माण विभाग के खंडहर हो चुके स्टाफ क्वार्टर थे। इन खंडहर हो चुके भवन में लोग जानवर बाधने लगे थे, जिससे गंदगी रहती थी। नगर पालिका अध्यक्ष चंद्रभान सहगल की पहल पर विधायक सत्य प्रकाश जरावता ने इस स्थल पर लाइब्रेरी बनाने की मंजूरी दिलवा दी है। इस स्थल पर नगरपालिका एक बड़ा हाल तथा पार्क भी बनवाएगी। विधायक सत्य प्रकाश जरावता ने उम्मीद जताई कि यह राज्य के प्रमुख पुस्तकालयों में से एक होगा तथा यहां अध्ययन करने वाले अपने जीवन का निर्माण कर उच्च पदों पर तक पहुंच सकेंगे। इस अवसर पर उन्होंने नगरपालिका सचिव को निर्देश दिया कि वे दो मंजिल की जगह तीन मंजिला बनाया जाए तथा तीसरी मंजिल पर कोचिग क्लास शुरू की जाएं ताकि क्षेत्र के विद्यार्थी यहां से आइएएस तथा एचसीएस आदि विभिन्न परीक्षाओं की कोचिग ले सकें। साथ ही इसमें लिफ्ट की भी व्यवस्था की जाए। विधायक ने कहा केंद्रीय मंत्री राव इंद्रजीत सिंह पटौदी के विकास में हमेशा सहयोगी रहे हैं। वे कभी भी पटौदी के विकास में बाधक नहीं बनते हैं। कुछ लोग उनके नाम से दुष्प्रचार करते हैं। नगर पालिका अध्यक्ष चंद्रभान सहगल ने इसे स्वर्गाश्रम कमेटी के प्रधान अश्विनी कक्कड़ को शवदाह गृह की चाभी सौंपी। इन आयोजनों में नगरपालिका उपाध्यक्ष जर्मन सैनी, पूर्व उपाध्यक्ष राधेश्याम मक्कड़, नगरपालिका सचिव राजेश मेहता, एमई नरेंद्र तनेजा, पार्षद गोरा रानी, हरभगवान खुराना, अनिल यादव, महेंद्र, मनोज, ओम प्रकाश बत्रा, गोपाल वधवा, अश्विनी कक्कड़ सहित अनेक गणमान्य लोग उपस्थित रहे।

Edited By: Jagran