जागरण संवाददाता, गुरुग्राम: शहर में कूड़ा उठाने वाली निजी कंपनी इको ग्रीन के ठेकेदार अंकित खटाना व उनके भाई प्रदीप के ऊपर मंगलवार सुबह 15-20 युवकों द्वारा डंडों व रॉड हमला करने का मामला सामने आया है। शिकायत सामने आते ही सदर थाना पुलिस ने मामला दर्ज कर मंगलवार देर रात राजीव चौक के नजदीक से पांच आरोपितों को गिरफ्तार कर लिया।

उनकी पहचान चरखी दादरी जिले के गांव पैतावास कलां निवासी रमेश, अमित, संदीप, भिवानी जिले के गांव लोहानी निवासी नरेश एवं सुनील के रूप में की गई। सभी को बुधवार दोपहर अदालत में पेश किया गया। इनमें से रमेश को एक दिन की रिमांड पर लिया गया। बाकी को न्यायिक हिरासत में भोंडसी जेल भेज दिया गया।

पुलिस में दी गई शिकायत के मुताबिक गांव सहजावास निवासी अंकित खटाना ने इको ग्रीन कंपनी से कूड़े उठाने का ठेका ले रखा है। वह गांव इस्लामपुर में मंगलवार सुबह कूड़े उठाने के लिए गाड़ियों पर लेबर चढ़ाने का काम कर रहे थे। उसी दौरान इसी कंपनी में पहले काम कर चुका रमेश अपने जानकार अभिनव व महेश सहित लगभग 15-20 युवकों के साथ पहुंचा। इसके बाद सभी ने उनके व उनके बुआ के बेटे प्रदीप के ऊपर हमला बोल दिया।

रमेश के हाथ में एक पिस्टल थी। जाते-जाते रमेश व उसके साथी बोलते गए कि आगे से दिखाई दिया तो पिस्टल की सभी गोलियां सीने में उतार दूंगा। चोट अधिक लगने की वजह से दोनों को मेदांता अस्पताल में भर्ती कराया गया है। सदर थाना प्रभारी बसंत कुमार ने बताया कि शिकायत सामने आते ही मामला दर्ज कर आरोपितों की तलाश शुरू की गई। जल्द ही अन्य आरोपितों को गिरफ्तार किया जाएगा। उनकी पहचान की जा रही है।

Posted By: Jagran

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस