जागरण संवाददाता, गुरुग्राम: कांग्रेस के भारत बंद का शहर में कहीं नजर नहीं आया। कांग्रेस नेताओं और पदाधिकारियों के आह्वान पर सदर बाजार में दुकानदारों ने कुछ देर के लिए दुकानें बंद रखीं। लेकिन शहर में कहीं पर भी बाजार बंद नहीं हुए।

सोमवार सुबह पेट्रोल-डीजल की बढ़ती कीमतों और भाजपा की नीतियों के खिलाफ कमान सराय स्थित जिला कार्यालय में कांग्रेसी नेता और कार्यकर्ता एकत्रित हुए। कार्यालय से जुलूस के रूप में नारेबाजी करते हुए सदर बाजार पहुंचे। बाजार की गलियों में करीब 10 दुकानदारों से कांग्रेसी नेताओं ने दुकानें बंद करने की अपील की। करीब आधे घंटे तक दुकानें बंद रहीं और कांग्रेस का जुलूस गुजरते ही दुकानदारों ने फिर से अपनी दुकानें खोल लीं।

कांग्रेस व्यापार सेल के पंकज डाबर, लीगल चेयरमैन नवीन शर्मा ने कहा कि भाजपा के शासनकाल में हर आदमी महंगाई की मार को झेल रहा है। पेट्रोल के रेट 80 रुपये प्रति लीटर से भी ऊपर पहुंच चुके हैं और महंगाई ने आम आदमी की कमर तोड़ रखी है। खाद्य पदार्थों से लेकर हर चीज महंगी हो रही है और बेरोजगारी बढ़ती जा रही है। युवाओं के पास योग्यता और डिग्री होने के बावजूद नौकरी नहीं मिल रहा है। प्रदर्शन के दौरान पूर्व सीनियर डिप्टी मेयर यशपाल बतरा, कन्हैयालाल पाहवा, मनीष खटाना, विक्रम यादव, मुफीद खान, रोहताश बेदी, सुरजीत भारद्वाज, सीमा पाहुजा, महाबीर बोहरा,सहित कई पदाधिकारी और कार्यकर्ता मौजूद रहे।

Posted By: Jagran