जागरण संवाददाता, गुरुग्राम: शहर के पुराने हिस्से में भी मेट्रो चलने की उम्मीद को बल मिलने लगा है। विधानसभा सत्र के दौरान गुरुग्राम से विधायक उमेश अग्रवाल से सवाल किया तो मुख्यमंत्री मनोहर लाल ने खुद उत्तर देते हुए कहा कि पुराने गुरुग्राम शहर में मेट्रो रेल सेवा शुरू करने पर सरकार गंभीरता से काम कर रही है। उन्होंने बताया कि दिल्ली मेट्रो रेल सेवा (डीएमआरसी) हुडा सिटी सेंटर से गुरुग्राम रेलवे स्टेशन तक मेट्रो विस्तार का तकनीकि अध्ययन करा चुकी है। इस मेट्रो रेल सेवा को पुरानी दिल्ली रोड, डूंडाहेड़ा के निकट आरआरटीएस तक विस्तार देने के लिए जून 2018 में राइट्स को डीपीआर तैयार करने को कहा गया है। राइट्स को डीपीआर तैयार कर दिसंबर तक (छह महीने में) रिपोर्ट देने को कहा गया है। राइट्स द्वारा डीपीआर दाखिल करने के बाद मेट्रो को विस्तार देने का काम शुरु कर दिया जाएगा। बता दें कि दैनिक जागरण ने सबसे पहले शहर की परिवहन समस्या व ट्रैफिक जाम की समस्या को देख पुराने शहर को मेट्रो सेवा से जोड़ने बात लिखी थी। जिसके बाद शहर के लोगों से लेकर केंद्रीय राज्यमंत्री राव इंद्रजीत ¨सह व विधायक उमेश अग्रवाल भी सरकार से मेट्रो विस्तार की मांग करते आए हैं।

दो रूट पर हुआ सर्वे

विधायक उमेश अग्रवाल के पूरक प्रश्न के जवाब बताया गया कि पुराने शहर को मेट्रो से जोड़ने की मुख्यमंत्री ने 10 अप्रैल 2016 को घोषणा की थी। इस घोषणा के बाद हरियाणा सरकार ने 8 अगस्त 2016 को डीएमआरसी को पत्र लिखकर टेक्नो फिजिबिलिटी स्टडी कराने को कहा। डीएमआरसी ने दो रूटों पर टेक्नो स्टडी कराई। पहला हुडा सिटी सेंटर से गुरुग्राम रेलवे स्टेशन वाया सुभाष चौक, राजीव चौक व न्यू कालोनी मोड़ के 12.28 किलोमीटर लंबा रूट। जबकि दूसरा रूट हुडा सिटी सेंटर से द्वारका वाया सुभाष चौक, हीरो होंडा चौक, सेक्टर 33, 34, 37, 10ए, 10, 9, 9ए, ईएसआई अस्पताल, सेक्टर 4 व 5 तथा सेक्टर 23 के कुल 27.48 किलोमीटर रूट को शामिल किया गया।

दिसंबर तक आएगी रिपोर्ट

डीएमआरसी ने चार नवंबर 2016 को अपनी स्टडी रिपोर्ट दाखिल कर दी जिस पर 19 जनवरी 2017 को मुख्य सचिव हरियाणा की अध्यक्षता में हुई बैठक में चर्चा हुई। इस बैठक में डीपीआर तैयार करने के लिए कंसल्टेंट तय करने पर भी विचार किया गया। इस साल 19 जनवरी को राइट्स को कंसल्टेंट नियुक्त करने का करार हुआ जो इसी साल दिसंबर तक अपनी रिपोर्ट सौंप देगा। हमारे प्रयास पर सीएम ने मुहर लगा दी है। दिसंबर में राइट्स द्वारा डीपीआर दाखिल करने के बाद अगले वर्ष पुराने शहर को मेट्रो से जोड़ने का काम शुरु कर दिया जाएगा और निकट भविष्य में ही पुराने शहर के लोगों को मेट्रो रेल सेवा का लाभ मिल सकेगा।

उमेश अग्रवाल, विधायक गुरुग्राम

Posted By: Jagran