जासं, गुरुग्राम: साइबर क्राइम थाना पुलिस ने सेक्टर-18 में चलाए जा रहे एक फर्जी कॉलसेंटर का बृहस्पतिवार शाम भंडाफोड़ किया। प्लॉट नंबर-62 में कॉल सेंटर चलाया जा रहा था। इसके माध्यम से विदेशी लोगों के साथ ठगी की जा रही थी। मौके से तीन सीपीयू एवं फोटोग्राफ्स भी बरामद किए गए।

शुक्रवार को पत्रकारों से बातचीत में सहायक पुलिस आयुक्त (डीएलएफ) करण गोयल एवं साइबर क्राइम थाना प्रभारी विवेक कुंडू ने बताया कि शिकायत मिली थी कि सेक्टर-18 इलाके में एक फर्जी कॉलसेंटर चल रहा है। उसी आधार पर छापेमारी की गई। मौके पर काफी कर्मचारी कार्यरत थे। सभी से पूछताछ में पता चला कि कॉल सेंटर उमेश शर्मा, मोनिष एवं विशाल के द्वारा चलाया जा रहा है। सेंटर के द्वारा विशेष रूप से अमेजॉन कंपनी से रिफंड दिलाने के नाम पर ठगी की जा रही थी। लोगों को मैसेज भेजे जाते थे। उसके बाद कॉलसेंटर के टोलफ्री नंबर कॉल आती थी। मामले की छानबीन की जा रही है। जल्द ही पूरी सच्चाई सामने लाई जाएगी।

Posted By: Jagran

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस