जागरण संवाददाता, नया गुरुग्राम: एमजी रोड स्थित डीएलएफ फेज-2 की सेंट्रल आर्केड मार्केट की सूरत बदल गई है। बीते एक साल में नई कमेटी के कार्यभार संभालने के बाद मार्केट में विकास कार्यों ने गति पकड़ ली और शाम को मार्केट में आने वाले लोगों से रौनक भी बढ़ गई है। विकास कार्यो से खुश शॉप मालिकों ने अभी एक सप्ताह पहले हुए चुनाव में फिर से इसी कमेटी को निर्विरोध चयनित कर लिया।

बता दें कि डीएलएफ फेज-2 में यह 30 साल पुरानी मार्केट है लेकिन बीते कई वर्षो से मार्केट में विकास कार्यो की अनदेखी और बदहाली के चलते यहां पर लोगों ने भी आना छोड़ दिया था। मार्केट में तमाम समस्याओं का अंबार लगा हुआ था। पार्किंग व्यवस्था नहीं होने से लेकर गंदगी, अवैध कब्जे, लाइटिग न होने, सिक्योरिटी, सीवर, जलभराव जैसी दिक्कतों के चलते मार्केट में दुकान व ऑफिसों की कीमतें तक गिर गई थीं, लेकिन आठ माह पहले मार्केट में नई प्रबंधन समिति ने कार्यभार संभाला और तमाम समस्याओं के निपटान पर गंभीरता से काम किया। अब यहां पर सुरक्षा से लेकर टाइल लगवाना, साफ-सफाई की व्यवस्था, लाइटिग, लोगों के बैठने के लिए बेंच की व्यवस्था, डस्टबिन, लोगों के खाने-पीने के लिए विभिन्न प्रकार के स्टॉल इत्यादि की व्यवस्था की गई है। इन कार्यो के चलते शाम को मार्केट आने वाले लोगों की संख्या में भी इजाफा हुआ है।

-

मार्केट में बीते एक साल में विकास कार्यो की कायापलट हो गई है। बिजली व्यवस्था सुधार के लिए जनरेटरों का अपडेट करने समेत दर्जनों अच्छे कार्य हुए हैं जिनकी वजह मार्केट में लोगों का आना-जाना भी काफी बढ़ गया। शाम के समय यहां पर रौनक बढ़ जाती है।

- राजेश खेर, शॉप मालिक मार्केट में सुरक्षा व्यवस्था और खुले में शराब-बीयर पीने से इलाके की लड़कियां एवं महिलाएं तक मार्केट आने में कतराती थीं लेकिन अब व्यवस्था दुरस्त होने से शाम को अच्छी-खासी रौनक होती है। इस सुधार से मार्केट की कीमतों में भी सुधार हुआ है।

- प्रदीप बाली, शॉप मालिक जब मार्केट का कार्यभार संभाला, बुरे हालात थे। साफ-सफाई से लेकर अवैध कब्जे, पार्किंग, लाइटिग, टाइलिग की हालत अत्यंत गंभीर था। स्थानीय निगम पार्षद आरएस राठी के सहयोग से बीते साल में मार्केट में इन समस्याओं पर गंभीरता से काम किया गया है।

- दीपक सचदेवा, सचिव, सेंट्रल मार्केट आर्केड एसोसिएशन

Posted By: Jagran

अब खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस, डाउनलोड करें जागरण एप