जागरण संवाददाता, गुरुग्राम: सेक्टर-37 इलाके से बृहस्पतिवार सुबह हथियार के बल दो युवकों ने कार लूट को अंजाम दिया। सूचना मिलते ही सेक्टर-10ए थाना पुलिस ने कार्रवाई शुरू की और शुक्रवार दोपहर 12 बजे एक आरोपित को पालम विहार इलाके से गिरफ्तार कर लिया। आरोपित की पहचान दिल्ली के बिजवासन निवासी प्रदीप राणा के रूप में की गई। उसे शनिवार दोपहर अदालत में पेश कर रिमांड पर लेने का प्रयास किया जाएगा। उसके कब्जे से लूटी गई कार भी बरामद कर ली गई है।

पुलिस में दी गई शिकायत के मुताबिक सेक्टर-9ए निवासी संजय सिंह आइएमटी मानेसर स्थित एक निजी कंपनी में काम करते हैं। वह सुबह आठ बजे घर से कंपनी अपनी सेलेरियो कार से जा रहे थे। सेक्टर-37 इलाके में जैसे ही पहुंचे कि पीछे से एक आई-10 कार ने उनकी कार में टक्कर मार दी। इसके बाद उसमें से दो युवक निकले और जबरन उनकी कार में बैठ गए। कुछ ही दूरी पर हथियार के बल पर जान से मारने की धमकी देते हुए उन्हें उतार दिया। विरोध करने पर उनके साथ हाथापाई भी दोनों ने की। इसके बाद कार लेकर फरार हो गए। दोनों ने अपनी कार सेक्टर-37 में ही छोड़ दी। शिकायत मिलते ही सेक्टर-10ए थाना पुलिस ने मामला दर्ज कर कार्रवाई शुरू की और कुछ ही घंटे के भीतर दोनों में एक आरोपित को गिरफ्तार कर लिया। थाना प्रभारी संजय कुमार ने बताया कि दूसरे आरोपित की तलाश तेज कर दी गई है। उससे वारदात में प्रयोग हथियार की बरामदगी भी की जानी है। आरोपितों की कार को मौके से ही कब्जे में ले लिया गया। पुलिस का ध्यान भटकाने के लिए दी झूठी सूचना

गिरफ्तार आरोपित प्रदीप राणा ने पूछताछ में बताया कि वे पकड़े न जाएं इसके लिए वारदात करने के बाद उसने 100 नंबर पर डायल करके अपनी आई-10 कार बसई फ्लाईओवर पर चार युवकों द्वारा लूटे जाने की सूचना दी थी। सूचना के अनुसार पुलिस का ध्यान बसई फ्लाईओवर की ओर चला गया। इससे वे दोनों वारदात को अंजाम देकर फरार होने में कामयाब हो गए थे।

Posted By: Jagran

अब खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस, डाउनलोड करें जागरण एप