जागरण संवाददाता, गुरुग्राम : आइएमटी मानेसर थाना पुलिस द्वारा बुधवार शाम कासन मोड़ से हथियार सहित गिरफ्तार किए गए दोनों बदमाश एटीएम उखाड़कर चोरी करने वाले कुख्यात अडवाणी गैंग से जुड़े हैं। दोनों पर हरियाणा पुलिस ने 50-50 हजार रुपये का इनाम घोषित कर रखा था। पूछताछ के दौरान यह पता चला कि दोनों के खिलाफ गुरुग्राम एवं नूंह में 20 से अधिक लूट एवं चोरी के मामले दर्ज हैं। दोनों बदमाशों को शनिवार अदालत में पेश किया गया, जहां से न्यायिक हिरासत में भोंडसी जेल भेज दिया गया।

बुधवार शाम आइएमटी मानेसर थाना पुलिस को सूचना मिली थी कि बाइक सवार दो बदमाश किसी वारदात को अंजाम देने की फिराक में घूम रहे हैं। उनके पास हथियार भी है। सूचना मिलते ही पुलिस मौके पर पहुंची और दोनों को काबू कर लिया। बदमाशों की पहचान नूंह जिले के गांव बलाई निवासी साजिद एवं संदीप के रूप में की गई। दोनों को बृहस्पतिवार अदालत में पेश कर दो दिन की रिमांड पर लिया गया था। पूछताछ के दौरान पता चला कि दोनों बदमाश अडवाणी गैंग से जुड़े हैं। चोरी करने से पहले ये रेकी करते थे। वारदात को अंजाम रात में देते थे। ये सुनसान जगह या कम भीड़भाड़ वाली जगह पर स्थित एटीएम से चोरी करने का प्रयास करते थे। एटीएम को तोड़ने में सफल नहीं होने पर उसे उखाड़ लेते थे। एटीएम चोरी के लिए पिकअप का इस्तेमाल करते थे। दोनों ने अकेले गुरुग्राम जिले में ही चोरी की 20 से अधिक वारदात को अंजाम दिया। इस साल फरवरी से मई के दौरान ही गैंग ने जिले में एटीएम चोरी की कई वारदात को अंजाम दिया था। इसके बाद हरियाणा पुलिस ने गैंग के सभी बदमाशों के ऊपर 50-50 हजार रुपये इनाम की घोषणा की थी। पुलिस प्रवक्ता का कहना है कि जल्द ही गैंग के अन्य बदमाशों को भी गिरफ्तार किया जाएगा।

Posted By: Jagran