संवाद सहयोगी, बादशाहपुर : दक्षिण हरियाणा बिजली वितरण निगम के साउथ सिटी उपमंडल के उपमंडल अभियंता विक्रम सिंह पंवार के निलंबन के बाद नितेश द्विवेदी ने बुधवार को उपमंडल अभियंता का कार्यभार संभाल लिया है। साउथ सिटी उपमंडल अभियंता का काम बड़ा चुनौतीपूर्ण है। इस उपमंडल में उपभोक्ताओं के काम में लापरवाही व अनियमितताओं के चलते दो उपमंडल अभियंताओं को निलंबित किया जा चुका है। इस उपमंडल में सबसे ज्यादा बिजली उपभोक्ता हैं। लोगों की बिजली बिल को लेकर बड़ी समस्या है। नितेश द्विवेदी इससे पहले स्मार्ट ग्रिड में उपमंडल अभियंता का कामकाज देख रहे थे। नितेश द्विवेदी का दावा है कि वे उपभोक्ताओं की समस्याओं का पूरी तरह से समाधान करने का प्रयास करेंगे।

नौ सितंबर को दक्षिण हरियाणा बिजली वितरण निगम के प्रबंध निदेशक पीसी मीणा ने उपभोक्ता को कनेक्शन जारी करने में बरती गई लापरवाही के आरोप में साउथ सिटी उपमंडल के उपमंडल अभियंता विक्रम सिंह और यूडीसी लिपिक अशोक कुमार को तत्काल प्रभाव से निलंबित कर दिया था। बिजली उपभोक्ता सनविजन लिमिटेड ने 1,500 किलो वाट के गैर घरेलू कनेक्शन के लिए आवेदन के बाद उपभोक्ता को डिमांड नोटिस जारी कर दिया गया था। उपभोक्ता को कनेक्शन देने के लिए स्वतंत्र फीडर का निर्माण भी कर दिया गया था। उसके बाद भी आवेदन को निरस्त कर दिया गया।

विक्रम पंवार से पहले साउथ सिटी उप मंडल में तैनात उप मंडल अभियंता विकास यादव को भी अनियमितताओं के आरोप में निलंबित कर दिया गया था। नितेश द्विवेदी का कहना है कि उपभोक्ताओं की सभी समस्याओं का प्राथमिकता के आधार पर समाधान किया जाएगा। इस बात का विशेष ध्यान रखा जाएगा कि उपभोक्ता को अपनी समस्या को लेकर दुबारा कार्यालय न आना पड़े। उपभोक्ताओं की सबसे ज्यादा परेशानी बिजली बिलों को लेकर है। उन्होंने कहा, बिल आदि का सारा काम हिसार मुख्यालय से होता है। वह इस पूरे मसले को समझकर इसका भी हल निकालने का प्रयास करेंगे, ताकि उपभोक्ता को परेशानी न हो।

Edited By: Jagran