गौरव सिगला, नया गुरुग्राम

सेक्टर-67 स्थित श्रीवर्धमान मंत्रा सोसायटी को आक्यूपेशन सर्टिफिकेट (ओसी) की सौगात मिली है। बीते दो वर्ष से आवंटी बिना ओसी के ही फ्लैटों में रहने को मजबूर थे। अगस्त 2020 में तब डीटीपी प्लानिग बाठ ने सोसायटी का निरीक्षण कर ओसी दिलवाने की कवायद शुरू की थी। लगभग दो साल के संघर्ष और बिल्डर से मापदंड पूरे कराने के बाद ओसी मिलने में सफलता हासिल हुई है।

संघर्ष में अहम भूमिका निभाने एवं स्थानीय निवासी रजत प्रूथी ने ओसी दिलवाने का पूरा श्रेय तब डीटीपी प्लानिग रहे आरएस बाठ को दिया है। उनका कहना है कि अगस्त 2020 में सोसायटी निरीक्षण के साथ ओसी के लिए जद्दोजहद शुरू की और लगातार बिल्डर के साथ फालोअप कर मापदंड पूरे करवाए।

सोसायटी निवासियों से मिली जानकारी के अनुसार सेक्टर-67 स्थित श्री वर्धमान मंत्रा प्रोजेक्ट 2010 में लांच किया गया था। लगभग 11 एकड़ में फैली सोसायटी में कुल 11 टावरों में लगभग 1350 फ्लैट का निर्माण किया जाना था। फ्लैटों का कब्जा आवंटियो को 2014 में मिलना था। लेकिन बिल्डर प्रबंधन की तरफ से 2019 में फ्लैटों का कब्जा देना शुरू किया गया और वह भी योजनाकार विभाग से बिना ओसी लिए। अभी भी एक टावर का निर्माण अधूरा है।

निवासी मुनीष वर्मा, पवन कौशिक, योगेश का कहना है कि सोसायटी में दर्जनों समस्याएं आ रही है लेकिन बिल्डर प्रबंधन की तरफ से कोई सुनवाई नहीं हो रही। वर्तमान में सोसायटी में 600 से अधिक परिवार रह रहे है, हर माह 3500 रुपये रख-रखाव शुल्क लिया जा रहा है लेकिन बुनियादी सुविधाएं तक नहीं मिलती। लोड के अनुरूप बिजली का कनैक्शन नहीं लिया और अब डीजल जनरेटर बिजली के 23 रुपये यूनिट वसूले जाते है। अब मिल सकेगा सीवर और पानी का कनेक्शन

ओसी मिलने के बाद अब सोसायटी निवासियों को सीवर और नहरी पानी का कनेक्शन मिल सकेगा जो कि बड़ी राहत होगी। लंबे समय से निवासियों के साथ मिलकर बिल्डर से फालोआप कर मापदंड पूरे करवाए जिसके बाद जनता हित को देखते हुए बीते दो दिन पहले महानिदेशक नगर योजनाकार विभाग केएम पांडुरंग ने उक्त सोसायटी के 16 टावरों में से 15 टावरों का ओसी जारी कर दिया है। ओसी मिलने के बाद निवासियों को काफी राहत मिलेगी।

आरएस बाठ, डीटीपी प्लानिग

Edited By: Jagran