जागरण संवाददाता, फतेहाबाद: भारत विकास परिषद द्वारा आयोजित तीन दिवसीय प्रांतीय बाल संस्कार शिविर संपन्न हुआ। इसी उपलक्ष्य में आयोजित समापन समारोह के मुख्य अतिथि नगर परिषद् प्रधान दर्शन नागपाल थे जबकि अध्यक्षता परिषद् के राष्ट्रीय उपाध्यक्ष सुरेंद्र कुमार वधवा ने की। परिषद् के क्षेत्रीय मंत्री सीपी आहूजा विशेष तौर पर उपस्थित थे। कार्यक्रम का शुभारंभ मां भारती व स्वामी विवेकानंद की प्रतिमा के समक्ष दीप प्रज्वलित कर किया गया। इस अवसर पर संबोधित करते हुए परिषद् के राष्ट्रीय उपाध्यक्ष सुरेंद्र कुमार वधवा ने कहा कि परिषद् का मुख्य उद्देश्य शिविर के माध्यम से बच्चों को संस्कारित करना है। उन्होंने शिविर के दौरान बच्चों द्वारा प्राप्त किए गए अनुभवों के प्रस्तुतिकरण पर प्रशंसा व्यक्त की। उन्होंने कहा कि पूरे भारत वर्ष में इस तरह के शिविर चल रहे हैं। शिविर के सफल आयोजन पर उन्होंने पश्चिम प्रांत के अध्यक्ष केके अरोड़ा व अन्य पदाधिकारियों को बधाई दी। समारोह में पहुंचे डीसी डा. हरदीप ¨सह ने भी बच्चों के साथ अपने अनुभव और विचार सांझे किए। नगर परिषद् प्रधान दर्शन नागपाल ने भी परिषद् द्वारा समाजसेवा के लिए किए जा रहे कार्यों के लिए आभार व्यक्त किया तथा कहा कि परिषद् द्वारा समाज को सही दिशा देने का काम किया जा रहा है। प्रांतीय अध्यक्ष केके अरोड़ा ने आए हुए अतिथियों का आभार व्यक्त किया तथा स्मृति चिन्ह देकर सम्मानित किया। प्रांतीय महासचिव जियालाल बंसल ने तीन दिन तक चले शिविर की रिर्पोट ‌र्प्रस्तुत की। तीन दिन तक चले शिविर में फतेहाबाद जिला के अलावा सिरसा, हिसार, जींद, भिवानी तथा चरखी दादरी के 206 बच्चों ने भाग लिया जिनमें 54 लड़कियां भी शामिल थी। शिविर के दौरान बच्चों को संस्कारित करने के साथ प्राथमिक चिकित्सा प्रशिक्षण, आत्मरक्षा प्रशिक्षण शिविर, बेस्ट आउट ऑफ वेस्ट प्रशिक्षण शिविर का प्रशिक्षण दिया गया। बच्चों को ये प्रशिक्षण लिम्का बुक ऑफ व‌र्ल्ड रिकार्ड में अपनी कृतियों के लिए जाने जाने वाले डॉ. राजेश जांगड़ा व उनके सहयोगियों ने दिया। परिषद् के शाखा अध्यक्ष राकेश मखीजा व सचिव विजय जग्गा ने शिविर में सहयोग करने वाले सभी सहयोगियों का आभार व्यक्त किया।

By Jagran