जागरण संवाददाता, फतेहाबाद:

अप्रैल महीना शुरू होने में कुछ दिन शेष है ऐसे में गर्मी शुरू होना भी संभावित है। लेकिन पिछले साल की तुलना में मार्च महीना सबसे ठंडा रहा है। लेकिन पिछले तीन चार दिनों से तापमान एकाएक बढ़ रहा है। रविवार को पहली बार 30 डिग्री पर तापमान पहुंचा। वहीं न्यूनतम तापमान 17 डिग्री सेल्सियस दर्ज किया गया। मौसम वैज्ञानिकों की माने तो अब तापमान नीचे आने की संभावना कम ही लग रही है। तापमान बढ़ने के बाद दोपहर बाद मौसम बदल गया और बादल छा गए। जिससे किसान चितित है। वहीं माना जा रहा है कि सोमवार को हल्की बूंदाबांदी हो सकती है।

रविवार को पहली बार तापमान 30 डिग्री पर पहुंचा। ऐसे में गर्मी में दस्तक देनी शुरू कर दी है। लोगों ने दिन व रात के समय पंखे चलाने शुरू कर दिए है। गर्मी बढ़ने के साथ ही मच्छर भी अधिक हो गए हैं। जिससे लोग बुखार की चपेट में आ रहे हैं। वहीं किसानों ने गेहूं की फसल में अंतिम सिचाई शुरू कर दी है। जिले में 13 अप्रैल तक गेहूं की कटाई भी शुरू हो सकती है। अब किसान सरसों की कटाई व कढ़ाई शुरू कर दी है।

दोपहर बाद छाए बादल

सुबह से ही तापमान परिवर्तनशील था। गर्मी अधिक होने के कारण लोग परेशान दिखे। दोपहर बाद बादल छा गए और तेज हवा चलनी लगी। जो किसान दिन के समय गेहूं की सिचाई कर रहे थे वो फसल जमीन पर बिछ गई। ऐसे में कृषि विशेषज्ञ भी मान रहे है कि रात के समय में गेहूं में सिचाई करे ताकि किसी प्रकार का कोई नुकसान न हो। आने वाले एक दो दिन तक ऐसा ही मौसम रहने की संभावना है।

------------------------

ये रहा पिछले पांच दिनों का तापमान

तिथि अधिकतम न्यूनतम

17 मार्च 23 13

18 मार्च 27 14

19 मार्च 26 14

20 मार्च 26 14

21 मार्च 26 14

22 मार्च 29 17

23 मार्च 29 17

24 मार्च 30 17

------------------------------------------------

------------------------------------------------

एक दो दिन मौसम परिवर्तशील रह सकता है। लेकिन बरसात की संभावना कम है। किसान गेहूं में सिचाई करते समय मौसम पर ध्यान रखे। दिन के समय अब हवाएं चलेगी। इसलिए रात के समय ही सिचाई करे ताकि गेहूं की फसल जमीन पर ना गिरे। इस बार गेहूं व सरसों की फसलें पिछले साल की अपेक्षा अच्छी है

-डा. बलवंत सहारण,

उपकृषि निदेशक, फतेहाबाद।

Posted By: Jagran

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस