संवाद सूत्र, टोहाना : छात्राओं के साथ अब अध्यापिकाएं भी आत्मरक्षा के गुर सीख रही है। अध्यापिकाएं आत्मरक्षा के गुर सीखने के बाद छात्राओं को ट्रे¨नग देगी। दैनिक जागरण द्वारा बजरंग मॉडल स्कूल में आयोजित आत्म रक्षा शिविर के दूसरे दिन जहां छात्राओं को आत्म रक्षा के टिप्स दिए गए। वहीं स्कूल की महिला अध्यापिकाओं को भी प्रशिक्षण देकर उन्हें आत्म रक्षा करने तथा असामाजिक तत्वों से बचने के बारे में बताया गया। चेयरमैन विनय वर्मा के निर्देशन तथा ¨प्रसिपल अंजू वर्मा के मार्गदर्शन में कोच माजिद ने कहा कि आज छात्राओं के साथ-साथ महिलाओं को भी अपनी सुरक्षा को लेकर सजग होना चाहिए। उन्होंने बताया कि महिलाएं घर से बाजार में सामान आदि खरीदने के लिए जाती है तो ऐसे में वह बाइक सवारों द्वारा स्ने¨चग का शिकार हो जाती है। जिसके चलते असामाजिक तत्व उनके हाथ से पर्स झपट लेते हैं वहीं उनके गले से सोने की चेन व कीमती आभूषण झपटकर फरार हो जाते हैं। ऐसे में महिलाओं को स्वयं की सुरक्षा के साथ-साथ अपने कीमती सामान की सुरक्षा के लिए भी निडर होने की जरुरत है। उन्होंने कहा कि दैनिक जागरण द्वारा महिलाओं के लिए आत्म रक्षा के शिविर का आयोजन महिलाओं में आत्म शक्ति व आत्म बल प्रदान करेगा। यदि महिलाएं स्व रक्षा के लिए निपुण होगी तो महिलाओं पर होने वाली वारदातों में काफी हद तक कमी आ सकती है। इसलिए आज प्रत्येक महिला को सक्षम बनने की आवश्यकता है। छात्राओं व महिलाओं के लिए स्व रक्षा के लिए चलाया गया अभियान अति सराहनीय है।

--महिलाओं व छात्राओं को सक्षम बनाने की दिशा में दैनिक जागरण द्वारा चलाया जा रहा अभियान महिलाओं में एक नया जोश पैदा कर रहा हैं। इन शिविरों के माध्यम से महिलाओं में आत्म सुरक्षा की भावना का विकास होगा। हमें आत्मरक्षा के गुरों की जानकारी नहीं थी। दैनिक जागरण ने जो प्रयास किए है वो शानदार है। इस तरह के कार्यक्रम होते रहने चाहिए।

--वनीशा, अध्यापिका, बजरंग मॉडल स्कूल, टोहाना।

--आज महिलाओं को घर से बाहर निकलते ही अपनी सुरक्षा को लेकर भी ¨चता रहती है। मौजूदा हालात में महिलाएं भय के माहौल में अपना कार्य निपटा घर को लौटती है। यदि इन शिविरों के माध्यम से महिलाओं को आत्म रक्षा के टिप्स दिए जाए तो इससे उनमें निडरता का समावेश होगा। अगर इन टिप्स को अपने जीवन में उतारेंगे तो कोई भी हमें नहीं छेड़ सकेगा।

--रजनीश शर्मा, अध्यापिका

--प्रत्येक छात्रा व महिला को अपनी सुरक्षा को लेकर आत्म निर्भर होना आज की सबसे बड़ी आवश्यकता हैं। दैनिक जागरण द्वारा महिलाओं को सक्षम बनाने के लिए आत्म रक्षा शिविर माध्यम से स्व रक्षा के टिप्स उपलब्ध करवाना एक अनुकरणीय कार्य हैं। इसलिए हमें स्वयं इसका ज्ञान प्राप्त कर अन्य महिलाओं को भी सक्षम बनाने में योगदान देना चाहिए। अगर कोई हमारे साथ छेड़खानी करता है तो उसका विरोध करना चाहिए। ऐसा करेंगे तो पास खड़े लोग भी सहयोग करेंगे।

-रेखा, अध्यापिका

--आज के हालात को देखते हुए छात्राओं के साथ-साथ महिलाओं को भी आत्म रक्षा के लिए स्वयं को सु²ढ़ बनाने की आवश्यकता है। आज देश में महिलाओं के साथ बर्बरतापूर्ण

अत्याचार से नारी शक्ति के सम्मान में कमी आई हैं। यदि हम आत्मरक्षा के गुर अपने जीवन में धारण कर ले तो इससे जहां हम अपनी सुरक्षा स्वयं कर सकेंगे वहीं इससे असामाजिक तत्वों के आचरण पर भी लगाम कसने का काम किया जा सकता है।

-गीतू भाटिया, अध्यापिका

Posted By: Jagran

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस