मुकेश खुराना, फतेहाबाद

भट्टूकलां का जो स्कूल 2018 में फिल्मी गाने की शूटिग के कारण पूरा साल विवादों में रहा था, वहां अब एक विवाद और खड़ा हो गया है। स्कूल दसवीं और बारहवीं कक्षा के जारी हुए परीक्षा परिणाम ने सवाल खड़े कर दिए हैं। स्कूल में तमाम संसाधन और शिक्षक होने के बावजूद स्कूल का दसवीं कक्षा का परीक्षा परिणाम फिसड्डी रहा है। यहां 135 में से 125 विद्यार्थी फेल हो गए हैं। 6 विद्याथी कंपार्टमेंट की सूची में शामिल हैं। स्कूल प्रिसीपल ने नौवीं कक्षा के परीक्षा परिणाम पर ही सवाल खड़े कर दिए हैं। प्रिसीपल का कहना है कि नौवीं कक्षा में ही सभी विद्यार्थियों को पास कर दिया गया और फिर दसवीं में दाखिला दे दिया। जो कि लायक ही नहीं थे।

खंड भट्टूकलां के 21 सरकारी स्कूलों में से इस स्कूल का परीक्षा परिणाम सबसे कम रहा है। गांव ठुईयां का परीक्षा परिणाम 22.2 फीसद, गांव बोदीवाली स्कूल का परीक्षा 27.16 फीसद, राजकीय सीनियर सेकेंडरी स्कूल किरढ़ान का परीक्षा परिणाम 26.47 फीसद रहा है।

--------

जानिए भट्टूकलां के सरकारी स्कूलों की क्या रही स्थिति :

स्कूल परीक्षा दी फेल पास फीसद

आरोही मॉडल स्कूल सरवरपुर 37 12 64.86

जीएसएसएस जांडवाला बागड़ 60 31 28.33

जीएसएसएस किरढ़ान 34 23 26.47

जीएसएसएस ढांड 38 14 47.36

जीएसएसएस पीलीमंदोरी 36 8 66.66

जीएसएसएस खाबड़ाकलां 80 25 65

जीएसएसएस भट्टूकलां 135 110 14.07

जीएसएसएस रामसरा 64 27 57.81

जीएसएसएस ढिगसरा 30 8 73.3

जीएसएसएस बनावाली 37 15 54. 05

जीएसएसएस एसपी सोतर 72 12 80.55

जीएचएस बोदीवाली 81 59 27.16

जीएचएस दैयड़ 47 14 55.31

जीजीएचएस किरढ़ान 23 10 56.52

जीएचएस ढाबीकलां 33 16 48.48

जीजीएचएस भट्टूकलां 66 38 36.40

जीएचएस ठुईयां 18 13 22.2

जीएचएस बनमंदोरी 43 24 44.18

जीएचएस कुकड़ावाली 24 15 29.17

जीजीएचएस पीलीमंदोरी 56 21 60.7

जीएचएस मेहूवाला 28 7 75

------

यहां दसवीं ने डुबोया ने तो बारहवीं ने बचाया :

खंड भट्टूकलां में दसवीं का परीक्षा परिणाम बेशक फिसड्डी रहा लेकिन बारहवीं कक्षा ने लाज बचा ली। यहां के तीन स्कूलों का परीक्षा परिणाम सौ फीसद रहा। आरोही मॉडल सीनियर सेकेंडरी स्कूल सरवपुर का 100 फीसद, राजकीय सीनियर सेकेंडरी स्कूल जांडवाला बागड़ का 90.90 फीसद, किरढ़ान का 100 फीसद, ढांड का 100 फीसद, पीलीमंदोरी का 97.62 फीसद, खाबड़ा कलां का 48.89 फीसद, भट्टूकलां का 61.33 फीसद, रामसरा का 57 फीसद, ढिगसरा का 95.2 फीसद, बनावाली का 86.66 फीसद तथा एसपी सोतर का 78.43 फीसद रहा है।

----

स्कूल का परीक्षा परिणाम काफी डाउन रहा है। इसके पीछे मुख्य कारण फेलियर विद्यार्थियों का दाखिला देना रहा है। इसके अलावा स्कूल में शूटिग को लेकर हुआ विवाद भी मुख्य कारण रहा। स्कूल में शिक्षक पूरे हैं लेकिन ये दो वजह मुख्य रूप से रही। नौंवी कक्षा के भी सभी विद्यार्थियों को पास करके दाखिला दे दिया गया था। ये भी एक कारण है।

- रामभतेरी

प्रिसीपल, राजकीय वरिष्ठ माध्यमिक विद्यालय भट्टूकलां

------

जिन स्कूलों का परीक्षा परिणाम कमजोर रहा है उसकी रिपोर्ट तैयार कर ली गई है। सोमवार को इन स्कूलों के खिलाफ कार्रवाई की जाएगी। कम परीक्षा परिणाम वाले स्कूलों को नोटिस जारी किया जाएगा।

- शशिप्रकाश

खंड शिक्षा अधिकारी, भट्टूकलां

------

Posted By: Jagran

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस