संवाद सूत्र, टोहाना :

महिलाओं को सस्ते ब्याज पर ऋण देने के नाम पर पांच लाख रुपये से अधिक की ठगी करने का मामला सामने आया है। शुक्रवार को महिलाओं ने कार्यालय के बाहर रोष प्रदर्शन किया और पुलिस को शिकायत दी है।

बताया जाता है कि अज्ञात लोगों ने भूना रोड पर एक गली में किराये की कोठी लेकर वहां महिलाओं को ऋण देने का कार्यालय बनाया था। जिसका नाम उन्होंने ऊषा फाइनेंस सर्विस प्राइवेट लिमिटेड रखा हुआ था। वहां एक अमित नाम का व्यक्ति जोकि अपने आपको दिल्ली का प्रबंधक बताता था और उसके साथ 4-5 व्यक्ति काम करते थे। उन व्यक्तियों द्वारा गांव की महिलाओं को ऋण देने के बहाने उनके बीमा किये जा रहे थे। जिसके तहत उनसे 1190 रुपये की किस्त भरवाकर 35 हजार से 40 हजार रुपये का ऋण दो साल में आसान किस्तों में सस्ती ब्याज दर पर लौटाने का प्रलोभन दिया जाता था।

वहीं उनके द्वारा महिलाओं को कहा जाता था कि ऋण लेने के लिए पहले 1190 रुपये पहले जमा करवाने होंगे। जिसके तहत परिवार के मुखिया व उसकी पत्नी का बीमा किया जाएगा। इस बीच दोनों में से यदि किसी कारणवश एक की मौत हो जाती है तो उससे बाकी की किस्ते नहीं ली जाएगी। इस प्रलोभन के चलते टोहाना क्षेत्र की अनेक महिलाएं उनके झांसे में आ गई और पांच लाख रुपये गंवा बैठी।

इस दौरान गांव रहनवाली की महिलाएं सर्वजीत कौर, बलविद्र कौर, चरणजीत कौर, बबो कौर आदि ने शहर थाने में एक शिकायत भी दी। जिसमें उन्होंने बताया कि उनके गांव की 32 महिलाओं को ऋण देने के नाम से बीमे के रूप में कंपनी के लोगों ने रूपये ठग लिये। उन्हें 8 अप्रैल को लोन दिया जाना था। लेकिन वो देने से पहले ही कंपनी भाग गई। महिलाओं ने आरोप लगाया कि उक्त लोग पांच लाख रुपये से अधिक की ठगी कर गए।

थाना प्रभारी सुखदेव ने बताया कि शिकायत आई है पुलिस मामले की जांच कर रही है।

Posted By: Jagran

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस