संवाद सूत्र, भूना :

प्रदेश सरकार द्वारा गांव में 24 घंटे बिजली आपूर्ति दिए जाने की जगमग योजना खटाई में पड़ती जा रही है। गांव टिब्बी के दर्जनों लोगों ने जगमग योजना के विरुद्ध गहरा रोष जताया है। ग्रामीणों ने आरोप लगाया कि गांव टिब्बी को भी जगमग योजना से जोड़ा गया था, लेकिन पिछले 45 घंटे से गांव में बिजली आपूर्ति ठप पड़ी है। जिससे विभागीय लापरवाही साफ नजर आ रही है।

ग्रामीण बलविद्र ढकरवाल, सुदामा बिच्छर, सत्यवान बड़ोदिया, शिशपाल कुलड़िया, रामनिवास ओला, कुलदीप खैरवां, कपिल बिश्नोई आदि ने बताया कि गत वर्ष प्रदेश सरकार ने उनके गांव टिब्बी को जगमग योजना में शामिल किए जाने की घोषणा की थी। जिसके तहत गांव में 24 घंटे बिजली सप्लाई दी जानी थी। विद्युत निगम ने उक्त योजना को अमलीजामा पहनाए जाने की कवायद शुरू कर दी और घरों से मीटर बाहर भी लगा दिए। गांव के उपभोक्ताओं द्वारा निर्धारित समय पर बिजली बिल अदा किया जाने लगे। लेकिन अब सोमवार रात्रि 9 बजे से गांव से बिजली गुल है। लगातार 45 घंटे बिजली आपूर्ति ठप रहने से इन्वर्टर भी बंद पड़ गए हैं। जिसके चलते ग्रामीण परेशाहै। ग्रामीणों ने विद्युत निगम के अधिकारियों को मामले से अवगत करवाया है, लेकिन बावजूद इसके समस्या का कोई हल नहीं हो पाया है।

ग्रामीणों ने चेताया कि यदि शीघ्र ही गांव में बिजली आपूर्ति सुचारू नहीं की गई तो मामले को जिला उपायुक्त के संज्ञान में लाया जाएगा।

----------

रविवार रात्रि को तेज अंधड़ आने की वजह से विद्युत लाइन में फॉल्ट आ गया था। जिसको काफी मशक्कत के बाद दुरुस्त किया गया है। उच्चाधिकारियों की ओर से गेहूं कटाई के सीजन के कारण दिन में विद्युत कट रखे जाने के आदेश दि गए हैं, जबकि जल्दी ही गांव में विद्युत सप्लाई सुचारू कर दी जाएगी।

धर्मपाल शिला, एसडीओ, विद्युत निगम।

Posted By: Jagran

अब खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस, डाउनलोड करें जागरण एप