जागरण संवाददाता, फतेहाबाद :

स्वास्थ्य विभाग ने विधानसभा घेराव में गए पॉलीक्लीनिक कर्मचारियों पर कार्रवाई की है। बिना बताए सामूहिक छुट्टी पर जाने पर विभाग ने मंगलवार को ड्यूटी ज्वाइन नहीं करवाई है। सिविल सर्जन डॉ.मनीष बंसल ने कर्मचारियों के खिलाफ स्वास्थ्य महानिदेशक को शिकायत भेजी थी। जिसके बाद एक दिन की सामूहिक छुट्टी से वापस लौटे कर्मचारियों को ड्यूटी ही ज्वाइन नहीं करवाई गई।

वहीं इस मामले में सिविल सर्जन डा.मनीष बंसल का कहना है कि कर्मचारी बिना बताए छुट्टी पर गए थे, इससे स्वास्थ्य सेवाएं प्रभावित हुई हैं। इसके चलते इन पर कार्रवाई की गई है। मामले के अनुसार सोमवार को पॉलीक्लीनिक के कर्मचारी जिसमें फार्मासिस्ट, लैब तकनीशियन, एमपीएचडब्ल्यू, एएनएम शामिल है। ये कर्मचारी सर्व कर्मचारी संघ के साथ सामूहिक रूप से विधानसभा घेराव करने के लिए गए। इससे पॉलीक्लीनिक में इमरजेंसी और ओपीडी सेवाएं पूरी तरह से बंद रही थी। विभाग को प्रधानमंत्री सुरक्षित मातृत्व योजना का कैंप भी पॉलीक्लीनिक में रद करना पड़ा। इसके चलते मरीजों को भी परेशानी उठानी पड़ी। मंगलवार को कर्मचारी जब ड्यूटी पर पहुंचे तो सिविल सर्जन ने इन्हें ड्यूटी ज्वाइन करवाने से इंकार कर दिया। कर्मचारी इक्ट्ठे होकर सिविल सर्जन के पास भी पहुंचे। लेकिन सिविल सर्जन डयूटी ज्वाइन करवाने से साफ इंकार कर दिया।

--------

कर्मचारी बिना बताए छुट्टी पर गए थे। इससे स्वास्थ्य सेवाएं प्रभावित हुई हैं। इसी के चलते मंगलवार को ड्यूटी ज्वाइन नहीं करवाई गई है। कब तक ज्वाइन करवाया जाएगा इस संबंध में कुछ नहीं कहा जा सकता है।

- डा. मनीष बंसल

सिविल सर्जन फतेहाबाद

------

पॉलीक्लीनिक कर्मचारियों को सभी जिलों में ज्वाइन करवा दिया गया है, सिर्फ फतेहाबाद में ज्वाइन नहीं करवाया गया है। बुधवार को जनप्रतिनिधि को ज्ञापन दिया जाएगा। अगर फिर भी ज्वाइन नहीं करवाते हैं तो मामले को लेकर स्वास्थ्य महानिदेशक से मिलेंगे।

- डा.रवि गोदारा

प्रदेशाध्यक्ष, ऑल पॉलीक्लीनिक एवं डिस्पेंसरी एम्पलाइज एसोसिएशन

Posted By: Jagran