जागरण संवाददाता, फतेहाबाद :

किसान संघर्ष समिति द्वारा किसानों की मांगों को लेकर आज फतेहाबाद में रोष प्रदर्शन किया गया। प्रदर्शन के बाद समिति ने एडीसी को प्रधानमंत्री के नाम ज्ञापन भी सौंपा। इससे पूर्व नई सब्जी मंडी में किसान संघर्ष समिति की राज्य स्तरीय मीटिग हुई।

बैठक में किसानों की समस्याओं को लेकर चर्चा की गई और निर्णय लिया गया कि शहीद उधम सिंह जयंती के अवसर पर 26 जुलाई को फतेहाबाद में विशाल किसान रैली का आयोजन किया जाएगा। इसके अलावा बैठक में प्रदेश स्तरीय पर किसान संगठनों का सांझा मोर्चा बनाने का निर्णय लिया गया और इसको लेकर 30 जुलाई को कैथल में बैठक बुलाई गई। बैठक को संबोधित करते हुए किसान संघर्ष समिति के नेता मनदीप नथवान ने कहा कि भूना में बंद पड़ी शुगर मिल को दोबारा चालू करवाने को लेकर भी किसान संघर्ष समिति द्वारा लड़ाई लड़ी जाएगी। उन्होंने कहा कि हमारा प्रयास है कि प्रदेश स्तर पर किसान संगठनों का साझा मोर्चा बने। बैठक में प्रदेश के 15 से ज्यादा किसान संगठनों के प्रतिनिधि शामिल हुए और गहन विचार विमर्श के बाद 30 जुलाई को कैथल में किसान संगठनों की सांझा मीटिग बुलाने का फैसला लिया गया। ज्ञापन में किसान संघर्ष समिति ने किसानों को कर्जमुक्त करने, फसलों के उचित दाम देने, फसल की सरकारी खरीद सुनिश्चित करने, पेट्रोल-डीजल के बढ़ाए गए रेट वापस लेने, स्वामीनाथन आयोग की रिपोर्ट लागू करने, भूना शुगर मिल को दोबारा चालू करने की मांग की गई।

इस मीटिग मे भारतीय किसान यूनियन के प्रधान गुरनाम सिंह,, राष्ट्रीय किसान संगठन के जसबीर भाटी, मिठू डबवाली, रमेश बेनीवाल हिसार, बाबा गुरबचन सिंह, बलदेव सिंह महम्मदकी, सुखदेव सिंह, सुखदीप रंधावा, लाडी झाडसाहब, चांदीराम, गुरमेल सिंह कुलां, गुरमेल मघेडा, रविद्र हिजरावां खुर्द आदि शामिल हुए। बैठक में फतेहाबाद में किसान संघर्ष समिति का राज्य स्तरीय कार्यालय खोलने का भी फैसला लिया गया।

शॉर्ट मे जानें सभी बड़ी खबरें और पायें ई-पेपर,ऑडियो न्यूज़,और अन्य सर्विस, डाउनलोड जागरण ऐप

budget2021