जागरण संवाददाता, फतेहाबाद:

गांव ¨ढगसरा में अपहरण के बाद हत्या करने के मामले में गिरफ्तार किए गए आरोपित गांव सीसवाल निवासी सुंदरलाल से पुलिस ने रिमांड के दौरान डंडा बरामद किया है। बरामद किए गए डंडे से पीटकर प्रेम विवाह करने वाले धर्मबीर की हत्या की गई थी। रिमांड खत्म होने के बाद आरोपित को कोर्ट में पेश किया गया। यहां से न्यायिक हिरासत में भेज दिया गया है।

मामले में छह आरोपित पहले काबू हो चुके हैं। पुलिस के अनुसार मामले में शामिल सात से आठ आरोपितों की अभी तलाश जारी है। मामले के अनुसार एक जून को गांव ¨ढगसरा में युवक के अपहरण के बाद हत्या कर दी गई थी। पुलिस ने मृतक धर्मबीर के मामा राय¨सह की शिकायत पर आरोपितों के खिलाफ हत्या का मामला दर्ज किया था। पुलिस को दी शिकायत में आरोप लगाया था कि भांजा धर्मबीर ने गांव मंगाली की युवती के साथ प्रेम विवाह किया था। शादी के बाद दोनों करीब दो महीने घर से गायब रहे थे। दोनों ¨ढगसरा गांव में आए हुए थे। इसकी जानकारी युवती के परिजनों को लग गई। युवती के परिजन गाड़ियों में आए और धर्मबीर का अपहरण करके ले गए। पुलिस ने दो दिन बाद धर्मबीर का शव भादरा क्षेत्र में नहर से बरामद किया था।

Posted By: Jagran

अब खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस, डाउनलोड करें जागरण एप