जागरण संवाददाता, फतेहाबाद :

छह महीने पहले नगरपरिषद में कार्यरत बिल्डिग इंस्पेक्टर तीन साल की लंबी छुट्टी पर चला गया। पढ़ाई के नाम पर छुट्टी तो मिल गई लेकिन उनके जाने के बाद अवैध निर्माण को लेकर बवाल हो गया जो अब तक जारी है। नगरपरिषद की हद में काफी समय से अवैध निर्माण हो रहे हैं। पहले अधिकारी था तो इन लोगों पर कार्रवाई नहीं हुई, अब दूसरे अधिकारी को जिम्मेदारी तो दी गई है। लेकिन उनके पास चार्ज भी अनेक हैं। ऐसे में पूरे शहर में निगरानी रखना भी मुश्किल है। पिछले कुछ दिनों से शहर में लगातार अवैध निर्माण हो रहे हैं। नगरपरिषद के अधिकारियों ने चार कालोनियों का निरीक्षण किया तो वहां पर 21 अवैध निर्माण मिले। उन लोगों को नोटिस भी दिया गया। लेकिन आगे क्या कार्रवाई करनी है कि इसके बारे में कुछ नहीं पता। आज तक नगरपरिषद की तरफ से एक भी अवैध निर्माण नहीं रुकवाया गया है। केवल कोर्ट में केस डालकर काम की इतिश्री कर ली जाती है।

-------------------------------

21 जगहों पर मिला अवैध निर्माण

शहर की सूर्या एन्क्लेव, ग्रीन पार्क, राजीव कालोनी, अग्रवाल कालोनी, भाटिया कालोनी आदि कालोनियों में बिना नक्शा पास करवाए और दूसरे चार्ज भरने बिना लोगों ने मकान बनाने शुरू कर दिए हैं। जिसकी शिकायत मिलने के बाद नगरपरिषद के अधिकारियों ने निरीक्षण किया। जिसके बाद 21 लोगों को नोटिस दिया जा चुका है। इन लोगों को सात दिन के अंदर जवाब देने के लिए था। लेकिन उसके बाद आज तक नप की तरफ से कोई कार्रवाई नहीं की गई है। इससे पहले नगरपरिषद ने अब तक 42 लोगों के खिलाफ कोर्ट में केस दायर किया गया है, जिन पर बिना नक्शा पास कराए भवन निर्माण करने का आरोप है। यह तो वो मामले है जो शिकायत के बाद नगरपरिषद ने कदम उठाया है।

-------------------------------

अब यह भी है दुविधा

अगर शहर में मकान बनाना है तो उसे नक्शा पास करवाना होगा। पहले नगरपरिषद कार्यालय में जाकर नक्शा पास हो जाता था। लेकिन अब ऑनलाइन अप्लाइ करना होगा। लेकिन पिछले कई महीनों से नक्शा पास करवाने वाली साइट ही नहीं चल रही है। ऐसे में शहर में रहने वाले लोग दुविधा में है। अगर मकान नहीं बनाएंगे तो वो रहेंगे कैसे है। नगरपरिषद के अधिकारियों ने जिन लोगों को नोटिस दिया था वो नक्शा पास करवाने के लिए तैयार है लेकिन साइट नहीं चल रही। यहां के लोग नगरपरिषद प्रधान दर्शन नागपाल से भी मिले। उन्होंने कहा कि नोटिस देना गलत बात है। वो अपनी जमीन पर मकान बना रहे है। जब ऑनलाइन साइट नहीं चल रही तो नक्शा कैसे पास होगा।

------------------------------- मेरे पास कुछ लोग आए थे। पिछले कुछ दिनों से साइट नहीं चल रही है। मैं इस विषय में अधिकारियों से बात करूंगा। अगर कोई नक्शा पास करवाना चाहता है तो वो करवा सकता है। अगर किसी के पास कागजात नहीं होंगे तो नक्शा पास नहीं होगा। अगर किसी के पास जमीन की रजिस्ट्री है तो उसका नक्शा पास हो जाएगा।

दर्शन नागपाल,

प्रधान, नगरपरिषद, फतेहाबाद।

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस