जागरण संवाददाता, फतेहाबाद : कृषि मंत्रालय, भारत सरकार द्वारा प्रधानमंत्री फसल बीमा योजना में कुछ बदलाव किए गए है। ये नए बदलाव खरीफ फसल 2020 से लागू हो गए हैं। जिसके तहत अब कृषि कार्डधारक किसान अपनी फसल का बीमा स्वेच्छा से करवा सकते हैं।

फसल बीमा करवाने या न करवाने के संबंध में जिला के सभी कृषि कार्डधारक किसानों द्वारा अंतिम तिथि से 7 दिन पूर्व संबंधित बैंक शाखा में जाकर एक फॉर्म भरकर जमा करवाना होगा। इसके अलावा फसल बीमा करवाने वाले इच्छुक किसानों को यह भी सुनिश्चित करना होगा कि उनके बैंक खाते में फसल बीमा प्रीमियम के लिए पर्याप्त बैलेंस उपलब्ध हो। कई बार पाया गया है कि किसानों के कृषि कार्ड खाते में पर्याप्त बैलेंस उपलब्ध न होने की वजह से उनका फसल बीमा नहीं हो पाता है तथा उनको फसल का नुकसान होने की स्थिति में फसल का क्लेम नहीं मिल पाता है। किसान खरीफ फसल के लिए निर्धारित अंतिम तिथि तक अपने कृषि कार्ड खातों में पर्याप्त बैलेंस उपलब्ध रखना सुनिशित करें, ताकि फसल का बीमा बैंकों द्वारा करवाया जा सके।

----------------------------------

बीमा करवाने वालों को भी जमा करवाना होगा फार्म

जो किसान बीमा करवाना चाहता है वह भी एक फार्म जमा करवा सकते हैं। कई बार किसान फसल को बदल देते हैं। जब फसल खराब होती है तो बाद में किसान अपनी शिकायत लेकर पहुंचते हैं। लेकिन बीमा किसी दूसरी फसल का कट जाता है। इसलिए किसान को मुआवजा नहीं मिल पाता। इस बार सरकार ने आदेश दिए हैं कि जो किसान बीमा करवाना चाहता है वह भी एक फार्म भरकर दे। फार्म में सभी प्रकार की जानकारी उपलब्ध करवा दे ताकि आने वाले समय में किसी प्रकार की कोई दिक्कत ना आए।

---------------------------------------

किसान बनवा सकते हैं कृषि कार्ड

फसल बीमा योजना का लाभ लेने वाले किसान को अपना बैंक खाता संख्या को आधार से लिक करवाना अनिवार्य है। यदि बैंक खाते को आधार से लिक नहीं करवाया तो तुरंत ही अंतिम तिथि से पहले अपनी संबंधित बैंक शाखा में आधार कार्ड की प्रति जमा करके खाते को आधार कार्ड से लिक करवाएं, ताकि फसल बीमा सुनिश्चित किया जा सके। इस स्कीम में जिन किसानों ने कृषि कार्ड नहीं बनवा रखा है वे भी इस योजना का लाभ उठाते हुए अपनी फसल का बीमा करवाने के संबंध में उचित दस्तावेज बैंक शाखा में जमा करवा सकते हैं।

------------------------

जिले में 1 लाख 24 हजार 314 किसानों ने बनवा रखा है केसीसी कार्ड

फतेहाबाद जिले में 1 लाख 24 हजार 315 किसानों ने केसीसी कार्ड बनावा रखा है। किसान सरकार द्वारा मिलने वाली सुविधा का प्रयोग कर रहे है। वहीं अन्य किसान भी किसान कृषि कार्ड बनावा सकते हैं। इस बार सभी बैंक को मार्च महीने में टारगेट मिला था कि किसानों के कार्ड बनवाए जाएं। लेकिन लॉकडाउन ने सभी योजनाओं पर पानी फेर दिया है।

---------------------------------

फसल बीमा योजना का संशोधन कर दिया गया है। अब किसान की मर्जी से ही बीमा कटेगा। अगर फसल का बीमा किसान नहीं करवाना चाहता है तो उसे बैंक में जाकर एक फार्म जमा करवा दे। इसके बाद उसका बीमा नहीं कटेगा। बीमा कटने की अंतिम तिथि से सात दिन पहले यह फार्म जमा करवाना होगा।

अनिल कुमार मीणा,

जिला अग्रणी बैंक अधिकारी, फतेहाबाद।

Posted By: Jagran

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस