संवाद सूत्र, टोहाना: पांच दिन पूर्व टोहाना के संगम अस्पताल में दवा लेने आए पंजाब सीमा के गांव हमीरगढ़ से लापता हुए किसान का शव रविवार को मानसा जिले के गांव कुसले हैड के पास बहता हुआ बरामद किया गया। शव मिलने के बाद परिजनों ने बताया कि वह कर्ज से बहुत ज्यादा परेशान था। उसी से तंग आकर उसने आत्महत्या कर ली है। गांव हमीरगढ़ का 52 वर्षीय किसान करनैल ¨सह 20 फरवरी को अपने पड़ोसी के साथ बाइक पर सवार होकर संगम अस्पताल में दवा लेने आया था। इस दौरान जब पड़ोसी पर्ची कटवा रहा था। तब उक्त किसान वहां से गायब हो गया। गायब होने की सूचना पड़ोसी ने उसके परिजनों को दी। परिजनों ने टोहाना आकर उसकी क्षेत्र में तलाश की लेकिन कोई सुराग न मिलने पर उन्होंने शहर थाना में उसकी गुमशुदगी की रपट लिखवाई। वहीं उन्होंने समीप ही भाखड़ा नगर के अंतिम छोर तक तलाश शुरू कर दी। रविवार को मृतक का शव नहर से मृत अवस्था में मिलने पर परिजनों से पुलिस को सूचित किया। पुलिस ने शव को बाहर निकलवाकर उसकी शिनाख्त करवाई तथा शव का टोहाना के नागरिक अस्पताल में पोस्टमार्टम करवाकर परिजनों को सौंप दिया। मृतक के परिजनों गुलाब ¨सह ने बताया कि किसान करनैल ¨सह खेती में घाटे लगभग दस लाख रुपये के कर्ज तले दबा हुआ था। यहां तक कि जमीन भी बेच चुका था। जिसके चलते वह परेशान चल रहा था। मृतक एक लड़के व दो लड़कियों का पिता था।

Posted By: Jagran

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस