संवाद सूत्र, भूना : ढाणी सांचला के सरपंच पर गांव की ही एक महिला ने घर में घुसकर धक्कामुक्की तथा मारपीट व जान से मारने की धमकी देने का आरोप लगाया है। पीड़ित महिला को उपचार के लिए सामुदायिक स्वास्थ्य केंद्र भूना में दाखिल करवाया गया है। घायल महिला के पति चांदी राम ने पुलिस में शिकायत देकर सरपंच व उसके बेटे के खिलाफ सख्त कार्रवाई करने की मांग की है। पुलिस ने शिकायत के आधार पर जांच शुरू कर दी है।

पुलिस को दी शिकायत में ढाणी सांचला निवासी चांदी राम ने बताया कि बीते दिनों उनकी गली का निर्माण कार्य चल रहा था और ठेकेदार ने 6 फीट चौड़ी गली को निर्माण के दौरान महज 3 फीट तक ही लाकर निर्माण की औपचारिकता पूरी करने का प्रयास किया था। जिसके बाद चांदी राम ने ठेकेदार से उक्त मामले पर आपत्ति जताई तो ठेकेदार ने काम बंद कर दिया। इसी रंजिश को लेकर सरपंच साधु राम टाक अपने छोटे बेटे के साथ सोमवार सुबह 10 बजे के करीब शिकायतकर्ता के घर पर आ गया। जिस समय चांदी राम खाना खा रहा था तो सरपंच साधु राम ने उसे धमकी दी और खूब गाली गलौज किया। शिकायत के अनुसार जब चांदी राम की पत्नी मंगलपति ने सरपंच के ऐसा करने पर आपत्ति जताई तो सरपंच ने महिला के साथ भी धक्का मुक्की की। शिकायतकर्ता ने पुलिस शिकायत में गुहार लगाई है कि उसको व उसके परिवार को सरपंच से सुरक्षा प्रदान की जाए। इस संबंध में जांच अधिकारी सब इंस्पेक्टर बलदेव ¨सह ने बताया कि ढाणी सांचला की एक महिला ने थाना भूना में शिकायत देकर सरपंच पर धक्कामुक्की व जान से मारने की धमकी देने का आरोप लगाया है। मगर अभी तक पुलिस मामले की जांच कर रही है और जांच के बाद ही आगामी कार्रवाई अमल में लाई जाएगी। वहीं सरपंच ने अपने ऊपर लगे सभी आरोपों को निराधार बताया है।

Posted By: Jagran