जागरण संवाददाता, फतेहाबाद :

बुराइयों को खत्म करने के लिए ज्यादा से ज्यादा नागरिकों की भागीदारी सुनिश्चित करते हुए युवाओं को भी इसमें शामिल किया जाएं और उन्हें बेहतर ढंग से प्रशिक्षण उपलब्ध करवाया जाए।

ये निर्देश उपायुक्त डा. नरहरि सिंह बांगड़ ने अधिकारियों की आयोजित एक बैठक की अध्यक्षता करते हुए दिए। उन्होंने कहा कि सामाजिक बुराइयां जैसे नशाखोरी, कन्या भ्रूण हत्या, बाल विवाह, दहेज प्रथा आदि को जिला से जड़ मूल से खत्म करने के लिए युवाओं तथा मास्टर वालंटियर्स को 29 व 30 अक्टूबर को सभी खंडों में प्रशिक्षण दें तथा जन जागरण शिविरों का आयोजन करें। उपायुक्त ने कहा कि एक नवंबर हरियाणा दिवस के अवसर पर खेलकूद प्रतियोगिताओं का आयोजन करवाएं। इसके अलावा नशा मुक्त भारत अभियान के तहत मास्टर वालटियर्स को विशेष रूप से प्रशिक्षण दें। उन्होंने कहा कि स्वच्छ भारत मिशन के तहत स्वच्छता को अपनाने, कोरोना महामारी से बचाव के लिए तथा धान की पराली एवं अन्य फसली अवशेषों को जलाने से होने वाले दुष्प्रभावों के बारे में जागरूक करें। इसके अलावा बेटी बचाओ बेटी पढ़ाओ अभियान, कौशल विकास में युवाओं की भागीदारी सहित अन्य महत्वाकांक्षी अभियानों बारे भी लोगों को जागरूक करने का कार्य करें।

29 अक्टूबर को खंड फतेहाबाद में सुबह 9 से 10 बजे, भूना खंड में 12 बजे से 1 बजे, नागपुर में 2 बजे से 3 बजे जागरूकता कार्यक्रम आयोजित किए जाएंगे। इसी प्रकार से 30 अक्टूबर को भट्टू खंड में 9 से 10 बजे, रतिया में 12 से 1 बजे तथा 31 अक्टूबर को टोहाना खंड में सुबह 9 बजे से 10 बजे तथा जाखल खंड में 12 बजे से एक बजे तक कार्यक्रम का आयोजन होगा। ये सभी जागरूकता कार्यक्रम संबंधित खंड विकास एवं पंचायत अधिकारी कार्याल्य में आयोजित किए जाएंगे।

इस अवसर पर जिला नगर आयुक्त संवर्तक सिंह, डीटीओ अजय चोपड़ा, नगराधीश अनुभव मेहता, सीएमजीजीए ज्योति यादव, डीडीपीओ बलजीत सिंह चहल, तहसीलदार विजय मोहन सियाल, डीएसओ राजेन्द्र सिंह बेरवाल, डीआइओ सिकंदर, डिप्टी सीएमओ डा. वीना बत्तरा, पीओ आईसीडीएस राजबाला, नेहरू युवा केंद्र समन्यवक पूनम रानी सहित अन्य विभागों के अधिकारी मौजूद रहे।

शॉर्ट मे जानें सभी बड़ी खबरें और पायें ई-पेपर,ऑडियो न्यूज़,और अन्य सर्विस, डाउनलोड जागरण ऐप

budget2021