जागरण संवाददाता, फतेहाबाद :

गेहूं बिजाई का समय नजदीक आने के साथ ही किसानों ने धान की पराली में आग लगानी शुरू कर दी है। अगले 10 दिन जिलावासियों के लिए मुसीबत भरे रहने वाले है। पिछले तीन चार दिनों से लगातार किसान पराली में आग लगा रहे है। जिसका असर देखा जा रहा है। जिले की आबोहवा इतनी खराब हो गई है कि सांस लेना भी मुश्किल होता है। सुबह का समय सैर करने के लिए सबसे उपयोगी माना जाता है। लेकिन अब चिकित्सकों का कहना है कि सुबह सैर करना स्वास्थ्य के लिए हानिकारक है। उनकी बात भी सही है। जिले का सुबह का एक्यूआइ इतना खराब होता है कि सांस लेना भी मुश्किल है। वीरवार को जिले में सबसे अधिक 425 रहा है जो सबसे अधिक है। यह एक्यूआइ दोपहर तक इतना ही रहा। दोपहर बाद हवा चलने के कारण कुछ राहत मिली। लेकिन शाम होते हो फिर धुआं छा गया और आंखों में जलन शुरू हो गई।

---------------------------------

25 किसानों पर दर्ज हुए मामले

पिछले कुछ दिनों से लगातार किसान पराली में आग लगा रहे है। जिससे प्रदूषण भी खराब हो रहा है। जिला प्रशासन केवल किसानों पर मामले दर्ज कर रही है लेकिन अभी तक किसी पर जुर्माना नहीं लगाया गया है। वीरवार को पुलिस ने 25 किसानों पर मामला दर्ज किया है। अब तक जिले में 199 किसानों पर मामला दर्ज हो चुका है। भूना पुलिस ने कृषि अधिकारी धर्मवीर सिंह की शिकायत पर ढाणी गोपल में पराली में आग लगाने पर तीन किसानों पर मामला दर्ज किया है। इसके अलावा रतिया पुलिस ने कृषि अधिकारी संत कुमार की शिकायत पर रतनगढ़ के दो किसानों पर मामला दर्ज किया है। वहीं कृषि अधिकारी कुलदीप की शिकायत पर भूथनकलां में एक किसान पर मामला दर्ज किया है। इसके अलावा रतिया पुलिस ने कृषि अधिकारी गुरचरण सिंह की शिकायत पर ब्राह्मणवाला के आठ किसानों पर मामला दर्ज किया है। इसके अलावा पुलिस ने कृषि अधिकारी रिशू सिंह की शिकायत पर गांव सहनाल निवासी चार किसानों पर मामला दर्ज किया है। जाखल पुलिस ने एडीओ नरेंद्र कुमार की शिकायत पर जाखल निवासी दो किसानों के अलावा साधनवास के दो किसानों पर मामला दर्ज किया है। इसके अलावा एडीओ नरेंद्र कुमार की शिकायत पर सुखलमपुर निवासी तीन किसानों पर मामला दर्ज किया है।

--------------------------------

किसानों को समझाया जा रहा है कि पराली ना जलाए। वहीं अधिकारियों को आदेश दिया है कि खेतों में जाकर किसानों को जागरूक करे। अगर कोई पराली में आग लगाएगा तो उन किसानों के खिलाफ मामला दर्ज किया जाएगा।

डा. नरहरि सिंह बांगड़

उपायुक्त फतेहाबाद।

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस