जेएनएन, टोहाना [फतेहाबाद]। यहां कैंची चौक के पास स्थित एक निजी मिल्क चिलिंग सेंटर में अचानक अमोनिया गैस का रिसाव शुरू हो गया। इससे सेंटर के पीछे स्थित बस्ती में रह रहे लोगों की आंखों में जलन व उल्टी की शिकायत शुरू हो गई। इसके बाद लोग अपने घरों से बाहर निकल चिलिंग सेंटर के पास जमा हो गए।

सूचना पाकर पुलिस व प्रशासन के अधिकारी मौके पर पहुंचे। स्वास्थ्य विभाग को अलर्ट करने के साथ मौके पर छह एंबुलेंस व फायर बिग्रेड की गाड़ी को तैनात कर दिया गया। घटना के बाद भाजपा प्रदेश अध्यक्ष सुभाष बराला, डीसी डॉ. हरदीप सिंह व एसपी दीपक सहारण ने निरीक्षण किया। इस दौरान उपायुक्त ने गैस रिसाव में दोषियों के खिलाफ पुलिस व संबंधित विभाग को कार्रवाई के निर्देश दिए। पुलिस ने 500 मीटर दायरे में आने वाले घरों में मौजूद लोगों को भी घरों से बाहर निकालकर सुरक्षित जगहों पर भेज दिया।

बस्ती वासियों ने बताया कि शुक्रवार रात लगभग दो बजे एसएमएच मिल्क चिलिंग सेंटर में गैस लीकेज शुरू हुई थी। वे अपने घरों में सोए हुए थे। तभी सांस लेने में तकलीफ महसूस होने लगी। इस दौरान बच्चे व बूढ़ों को घुटन महसूस होने लगी। जब वह अपने घरों से बाहर निकले तो गंध और तेज हो गई। उसके बाद लोग लगभग तीन बजे मिल्क चिलिंग सेंटर पर पहुंचे।

उन्होंने सेंटर का दरवाजा खटखटाया, लेकिन काफी देर बाद कारिंदे उठे। उन्होंने सेंटर मालिक को सूचना दी। सेंटर में मौजूद मालिक ईश खेतरपाल सहित व वहां काम करने वाले कर्मचारियों ने गैस का रिसाव बंद करने का प्रयास किया। मगर वाल्व लीक होने की वजह से गैस रिसाव जारी रहा। करीब 14 घंटे के प्रयास के बाद शनिवार शाम को चार बजे रिसाव बंद हो पाया। बस्ती वासियों ने मांग है कि इस सेंटर को यहां से अन्य जगह स्थानांतरित किया जाए।

हरियाणा की ताजा खबरें पढ़ने के लिए यहां क्लिक करें

पंजाब की ताजा खबरें पढ़ने के लिए यहां क्लिक करें

Posted By: Kamlesh Bhatt

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस