सुशील भाटिया, फरीदाबाद : यह खुशनुमा अहसास, उल्लास कुछ अलग तरह का नजर आया। हर हिदू मन हर्षित था। सुबह हुई बारिश से खुशगवार हुआ मौसम और साथ में चल रही हवा हर घर पर स्थापित प्रभु श्रीराम जी की जयघोष लिखे भगवा ध्वज को शान से फहराने में सहायक साबित हो रही थी। इधर जैसे ही शाम होने को आई, हर घर के आंगन में, पार्कों में, सार्वजनिक स्थान को दीपमाला से रोशन करने की शुरुआत होने लगी। जैसे कार्तिक मास में अमावस्या का दिन हो, जब 14 वर्ष का वनवास काट कर रामजी अयोध्या लौटे थे। अब बुधवार को भाद्रपद मास के कृष्ण पक्ष द्वितीया की सांझ को दीप प्रज्लवित हुए, तो इसकी वजह भी अयोध्या ही थी और अवसर था 492 वर्ष के लंबे इंतजार के बाद बनने जा रहे रामजी के मंदिर निर्माण के लिए हुए भूमि पूजन का। और जब अयोध्या में प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी द्वारा भूमि पूजन संपन्न कराया गया, तब लोगों ने घंटे घड़ियाल, थाली व शंख बजा कर राममंदिर निर्माण के प्रति अपनी खुशियां एक दूसरे से साझा की। सजे मंदिर, हुआ अखंड पाठ और हवन यज्ञ

सुप्रीम कोर्ट के फैसले के बाद जब सभी अड़चनें दूर हो गई थी और राम मंदिर के निर्माण का मार्ग प्रशस्त हो गया था, तभी से इन पलों का इंतजार हो रहा था। इसकी तैयारियां पिछले कुछ दिनों से ज्यादा तेज हो गई थी। कोरोना के चलते अपने शहर में मंदिरों के कपाट बंद हैं, पर मंदिरों में राम दरबार सहित बाह्य स्वरूप की साज सज्जा में मंदिर समितियों के पदाधिकारियों ने कोई कसर नहीं छोड़ी। मंदिरों में शारीरिक दूरी के नियमों की पालना करते हुए और मुंह पर मास्क लगाए रामायण का अखंड पाठ भी चल रहा था, जिसका बुधवार को भोग पड़ा। कार सेवक के रूप में 1990 में अयोध्या गए फरीदाबाद पेट्रोलियम डीलर एसोसिएशन के महासचिव मनमोहन गुप्ता ने पांच हजार लड्डू हाईवे पर स्थित पेट्रोल पंप पर पेट्रोल-डीजल डलवाने आए सभी वाहन चालकों और उनके साथ आए लोगों को वितरित किए। श्री राम जन्म भूमि पूजन के मौके पर श्री धार्मिक लीला कमेटी ने पांच नंबर एम ब्लाक को भगवा झंडों से सजाया। कमेटी के निर्देशक हरीश चंद्र आजाद तथा प्रधान तेजिद्र खन्ना ने भूमि पूजन होने के चलते इस दिन को ऐतिहासिक बताया। सोशल मीडिया से लेकर सड़कों पर जय श्रीराम

प्रभु राम के चित्र वाली टी-शर्ट पहने, गले में राम-नाम का पटका डाले श्रद्धालु सड़कों पर उतर कर जयश्रीराम के उदघोष के साथ थोक में लड्डू बांटते नजर आए, तो सोशल मीडिया फेसबुक, वाट्सएप, इंस्टाग्राम पर भी सुबह से ही जयश्रीराम के चित्रों, राम जन्म भूमि पर मंदिर निर्माण के लिए भूमि पूजन होने की बधाई और शुभकामनाएं प्रेषित करने का सिलसिला चल पड़ था। लोगों ने विवादित ढांचे को गिराने के लिए चढ़े कार सेवकों व बलिदानी कोठारी बंधुओं के चित्र भी शेयर किए, साथ ही इस दिन को ऐतिहासिक बताया। लोगों ने अपने मोबाइल की डीपी को भी अयोध्या में बनने वाले राम मंदिर के नए मॉडल और श्रीराम के चित्र वाली लगा कर अपने भाव दर्शाए। पार्कों में हुए सार्वजनिक कार्यक्रम

तीन सी ब्लॉक पार्क में कविद्र चौधरी, राजेश भाटिया, वसु सत्यार्थी, सुरेश, अमित व संजय अरोड़ा, अजय भाटिया गोलू, यशपाल बंगारी, सुधीर भाटिया, महेंद्र पाल भाटिया, भारत भूषण ने 1100 दीप जला कर मंदिर निर्माण के लिए हुए भूमि पूजन पर खुशी जताई। यहां विधायक सीमा त्रिखा ने पहुंच कर सभी को बधाई दी।

इसी तरह तीन एफ ब्लॉक पार्क में मंगलवार से शुरू अखंडपाठ का भोग पड़ा, शाम को सुखमनी साहब का पाठ हुआ, खीर का प्रसाद वितरित हुआ और फिर प्रविद्र सिंह, राज वोहरा, पं.आत्मप्रकाश, संसार अवाना, सतप्रकाश छाबड़ा, सुदर्शन सचदेवा, अरुण वोहरा, संजय नंदवानी, राजेश नंदन, रमेश, राजेश खन्ना ने 3100 दीप जलाए। जगह-जगह सुंदरकांड पाठ का आयोजन

वहीं, वैश्य समाज सेक्टर-28, 29, 30, 31 ने राममंदिर भूमि पूजन के उपलक्ष्य में सेक्टर-29 में सुंदरकांड पाठ का आयोजन किया। मुख्यवक्ता के तौर पर विहिप के प्रदेश उपाध्यक्ष तिलक राज बैसला ने कहा कि हम सब सौभाग्यशाली हैं कि अपने जीवन मे भव्य राम मंदिर अपनी आंखों के सामने बनता देखेंगे। अध्यक्ष डीके.माहेश्वरी ने सपत्नीक सुंदरकांड पाठ का पूजन कराया। महासचिव बी आर सिगला ने रामभक्तों का स्वागत किया। इस मौके पर अरुण मित्तल, अरुण गुप्ता, कपिल गर्ग, विकास बंसल, पी डी गर्ग, श्याम बागला, अम्बरीश गोयल, विनेश अग्रवाल, बलराज गुप्ता, पवन गोयल, टी पी माहेश्वरी, डी के जैन, चौधरी राम रत्न ने पाठ में भाग लेकर बधाई दी।

Posted By: Jagran

इंडियन टी20 लीग

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस